Wednesday, August 17

दिल्ली में पुराने गाड़ियों को कबाड़ घोषित होने से बचाने के लिए कीजिए सरकारी उपाय, जल्द करिए आवेदन

आप जल्द ही घर बैठे अपने डीजल और पेट्रोल चालित पुराने वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) में बदलवा सकेंगे। दिल्ली सरकार ईवी (Electric Vehicles) रेट्रो फिटमेंट सेवाओं को फेसलेस बनाने जा रही है। इसी के साथ दिल्ली इस सेवा को फेसलेस मोड में लाने वाला देश का पहला शहर बन जाएगा। इससे बड़ी संख्या में डीजल वाहन का इस्तेमाल करने वालों को लाभ होगा जो अपने वाहनों को ईवी में बदलना चाहते हैं।

सरकार पहले ही पेट्रोल और डीजल वाहन मालिकों को रेट्रो फिटमेंट के माध्यम से अपने वाहनों को ईवी में बदलने की अनुमति देने का आदेश जारी कर चुकी है। ग्राहकों और एजेंसियों, दोनों को इस सेवा के लिए प्लेटफार्म देने के लिए सरकार पोर्टल भी लांच कर चुकी है।

ईवी में बदल सकेंगे पुराने डीजल-पेट्रोल वाहन

इसी के तहत लोग अब डीजल वाहनों को अधिकृत डीलर के जरिये अपने घर पर ईवी किट के साथ पुन: प्राप्त कर सकेंगे। यह सेवा लोगों को 10 साल से पुराने डीजल चालित वाहनों और 15 साल पुराने पेट्रोल चालित गाड़ियों को सड़कों पर चलाने में सक्षम बनाएगी, जिन्हें एनजीटी के आदेशों का हवाला देते हुए प्रतिबंधित कर दिया गया है।

  ऐसे उठा सकेंगे सेवा का लाभ

 

  • डीजल चालित वाहनों में ईवी किट के रेट्रो फिटमेंट के लिए माड्यूल को वाहन पोर्टल में आनलाइन किया गया है।
  • डीजल चालित कार में ईवी किट की स्थापना के लिए सरकार द्वारा अधिकृत रेट्रो फिटमेंट सेंटर पर जाएं।
  • आरएफसी डीजल कार में स्थापित ईवी किट की जानकारी वाहन पोर्टल पर अपलोड करेगा।
  • इसे संबंधित क्षेत्र के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) के अधिकारी द्वारा सत्यापित किया जाएगा।
  • वाहन में बदलाव के लिए आनलाइन आवेदन करना होगा, जिसके बाद जरूरी दस्तावेज अपलोड कर आवश्यक शुल्क का भुगतान करना होगा।

सरकार ने अब तक 47 सेवाओं को किया फेसलेस

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा कि दिल्लीवासी जल्द ही अपने वाहनों को अपने घरों में आराम से ईवी में परिवर्तित करवा सकेंगे। दिल्ली में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने यह कदम उठाया है।

Leave a Reply