Wednesday, August 17

दिल्ली की 6 जगह मानी जाती हैं भूतिया, दिन में भी जाने से डरते हैं लोग, रात में गाड़ी वालों को होती हैं परेशानी

भूत-प्रेत और आत्माओं का अस्तित्व है या नहीं, इस बारे में बता मुश्किल है। कुछ लोगों का इन पर विश्वास करते हैं। वहीं कुछ लोग इसे महज अफवाह और भ्रम कहकर टाल देते हैं। समय-समय पर कई ऐसे किस्से और कहानियां सुनने को मिल जाती हैं। जिससे आत्माओं के अस्तित्व में होने की बात कही जाती है। दिल्ली में भी ऐसी कई जगहें हैं जिन्हें हॉन्टेड स्थानों (Delhi Haunted Places) की श्रेणी में रखा जाता है।

फिरोज शाह कोटला किला- Firoz Shah Kotla Fort

फिरोज शाह तुगलक ने 1354 में इस किले को बनवाया था। आज यह खंडहर में तब्दील हो गया है। लोगों का कहना है कि यहां हर गुरुवार को मोबत्तियां और अगरबत्तियां जलती हुई दिखती है। माना जाता है कि अदृश्य आत्माएं जिन्न को खुश करने के लिए इकट्ठा होती हैं। इस लिए लोग यहां जाने से डरते हैं। यह हवेली भूतिया हवेली के नाम से जानी जाती है।

(फाइल फोटो)

खूनी दरवाजा- Khooni Darwaza

दिल्ली में खूनी दरवाजा नाम की एक जगह है। इसे हॉन्टेड प्लेस में गिना जाता है। लोगों का मानना है कि यहां लोगों के चीखने और रोने की आवाजें आती हैं। यह भी कहा जाता है कि यहां तीन राजकुमारियों की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी। साथ अंग्रेजी हुकूमत ने कई स्वतंत्रा सेनानियों को मौत के घाट उतार दिया था।

मालचा महल- Malcha mahal

दिल्ली के दक्षिण रिज में एक छुपा हुआ महल है जिसे मालचा कहा जाता है। इस महल को फिरोज शाह तुगलक ने अपनी शिकारगाह के रूप में इस्तेमाल करने के लिए बनवाया था। लोगों का कहना है कि अवध घराने की बेगम विलायत महल अपने दो बच्चों, पांच नौकरों और 12 कुत्तों के साथ यहां रहने आई थीं, लेकिन कभी यहां से बाहर नहीं निकलीं। माना जाता है कि बेगम ने आत्महत्या कर ली थी, उनकी रूह यहां भटकती रहती है।

भूली भटियारी का महल- Bhuli Bhatiyari Ka Mahal

इस महल को 14वीं सदी में बनाया गया था। कहानी प्रचलित है कि एक राजा अपनी रानी के साथ यहां के जंगलों शिकार करने आया था। राजा ने अपनी रानी को बेवफाई करते हुए देख लिया। उसके बाद उसे इसी महल में हमेशा के लिए भटकने को छोड़ दिया। लोगों का कहना है कि मरने के बाद अतृप्त रानी की आत्मा यहां भटकती रहती है। दिल्ली पुलिस ने एक बोर्ड लगा रखा है कि “शाम होने के बाद महल में घूमना मना है।”

(फाइल फोटो)

अग्रसेन की बावली- Agrasen Ki Baoli

दिल्ली की डरावनी जगहों में यह स्थान भी शामिल है। कहा जाता है कि इस बावली में बुरी आत्माएं निवास करती हैं। कहा जाता है कि एक बार काले पानी से भरी बावली में रहस्यमय तरीके से लोगों को डूबकर आत्महत्या करने का लालच दिया था। माना जाता है कि यहां चीखें सुनाई देती हैं। साथ ही आस-पास अजीब सी चीजें महसूस होती हैं।

(फाइल फोटो)

दिल्ली कंटोनमेंट – Delhi Cantonment

दिल्ली कंटोनमेंट का नाम दिल्ली की सबसे डरावनी जगहों में शुमार है। लोगों का कहना है कि यहां सफेद साड़ी पहने एक महिला घूमती हुई दिखाई दे जाती है। महिला लोगों से लिफ्ट मांगती है। जिन लोगों ने ऐसे हादसे का सामना किया है उनके लिए यह भयानक रहा है।

Leave a Reply