Saturday, May 28

दिल्ली के लोगों को एक और UNDERPASS सुरंग का तोहफ़ा, ITO से गुज़रने वाले जान ले नया रूट

आइटीओ इलाके से गुजरने वालों के लिए खुशखबरी है कि इन्हें इस माह के अंत तक जाम से मुक्ति मिल जाएगी, क्योंकि लोक निर्माण विभाग हर हाल में प्रगति मैदान सुरंग सड़क से इस माह के अंत तक यातायात शुरू कर देगा। विभाग की योजना है कि अगर परियोजना का छोटा-मोटा काम बचता है तो इसे यातायात शुरू करने के बाद अगले माह तक भी पूरा कर लिया जाएगा। यह परियोजना आइटीपीओ (इंडिया ट्रेड प्रमोशन आर्गनाइजेशन) के अंतर्गत है।

आइटीपीओ इसे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से शुरू कराने की कोशिश कर रहा है। प्रगति मैदान सुरंग सड़क परियोजना के काम को लेकर इस समय कठिनाई आ रही है, क्योंकि परियोजना पर काम कर रहे लोक निर्माण विभाग के चारों अभियंता कोरोना संक्रमित हो गए हैं, मगर वे फिर भी अपनी सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने काम को नहीं रुकने दिया है। सुरंग सड़क के अंदर इस समय बिजली की फिटिंग का काम पूरा किया जा रहा है। अब इस परियोजना के निकास और प्रवेश वाले स्थान पर दोनों ओर सड़कों को बनाने का काम बचा है। यह काम कुल मिलाकर चार दिन का है। विभाग ने इस काम को पूरा करने के लिए यातायात पुलिस से दिन के समय की अनुमति देने का अनुरोध किया है। जानकारी के अनुसार इसे 26 जनवरी से पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से जनता को समर्पित करने की योजना थी, मगर 26 जनवरी तक काम पूरा नहीं हो पा रहा है।

विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि परियोजना के निकास और प्रवेश द्वार पर सड़क बनाने का काम बचा हुआ है। उन्होंने बताया कि सड़क बनाने के लिए बिटुमिनस को लेकर समस्या आ रही है। इसके लिए अनुमति लेकर हरियाणा में एक प्लांट शुरू कराया गया है, मगर इसे रात में लाए जाने से तापमान कम होने से सड़क बनाने का काम नहीं हो पा रहा है। यातायात पुलिस से दिन में काम करने और दिन के समय बिटुमिनस को वहां से लाने की अनुमति मांगी गई है। उम्मीद है कि जल्द ही अनुमति मिल जाएगी और यह काम चार दिन में पूरा कर लिया जाएगा।

Delhi's ITO to Mathura Road: Glide down under | Delhi News - Times of India

 

बता दें कि यह परियोजना प्रगति मैदान पुनर्विकास योजना के तहत अस्तित्व में आई है। इसके पूरा होने से आइटीओ इलाके में जाम से जूझ रहे लोगों को राहत मिलेगी। इंडिया गेट से रिंग रोड पर आने-जाने वाले वाहन चालक इस सुरंग सड़क का उपयोग कर सकेंगे। इसकी लंबाई सवा किलोमीटर है, जो सुरंग वाली दिल्ली की पहली परियोजना है। इसके शुरू हो जाने पर इंडिया गेट, अशोक रोड और मंडी हाउस की ओर से यमुनापार की आने ओर से आने-जाने के लिए लोग इसका उपयोग कर सकेंगे। इससे वाहन चालकों को 15 से 20 मिनट समय की बचत होगी। तमाम वाहन चालक आइटीओ से नहीं गुजरेंगे। इससे आइटीओ इलाके में सुबह व शाम का जाम काफी कम हो जाएगा।

Leave a Reply