Thursday, June 30

दिल्ली से काठमांडू नेपाल के लिए नए रूट से बस सेवा चालू, नया समय और किराया हुआ जारी,

दिल्ली से काठमांडू (नेपाल) बस सेवा की बेहतरी के लिए समय को लेकर जो प्रयोग किया गया था, वह सफल नहीं हुआ है।इसके बाद बस को फिर से पुराने समय पर शुरू कर दिया गया है।अब बस का दिल्ली से छूटने का समय सुबह 10 बजे कर दिया गया है।

 

Delhi to kathmandu bus service.

वहीं बस मजनू का टीला भी नहीं जाएगी। अब सीधे अंबेडकर टर्मिनल से ही चलेगी ।

बता दें कि दिल्ली से काठमांडू (नेपाल) बस सेवा पहली ऐसी सरकारी सेवा है जो किसी दूसरे देश में आवागमन करती है।इससे पहले दिल्ली से पाकिस्तान के लाहौर के लिए भी तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने मैत्री बस सेवा शुरू की थी, जो पाकिस्तान से रिश्ते खराब हो जाने के बाद से बंद है।

अब केवल दिल्ली से काडमांडू के लिए ही बस आती जाती है।बस सेवा को लोकप्रिय बनाने के लिए इस माह में दिल्ली से बस के समय और व्यवस्था में बदलाव किया था।जिसके तहत व्यवस्था की गई थी कि दिल्ली से चलने से पहले बस मजनू का टीला जाएगी, वहां से यात्रियों को लेकर दिल्ली गेट स्थित अंबेडकर टर्मिनल आएगी।

बस को सुबह पांच बजे मजनू का टीला पहुंचना था औरर वहां से एक घंटे बाद सुबह छह बजे वापस अंबेडकर टर्मिनल दिल्ली गेट के लिए रवाना होना था। वहीं समय में बदलाव के तहत दिल्ली गेट टर्मिनल से सुबह सात बजे नेपाल के लिए प्रस्थान करना था।माना जा रहा था कि इससे यात्रियों को चार-पांच घंटे के समय की बचत होगी।दिल्ली में भीड़-भाड़ होने से पहली ही बस नेपाल के लिए निकल जाएगी।

Delhi kathmandu old bus route and time.

यह व्यवस्था गत 13 जून को की गई थी, जो सफल नहीं रही। इसका मकसद यह था कि सवारियां बढ़ेंगी। मगर ऐसा किए जाने से ऐसा कुछ नहीं हुआ उल्टे सुबह तड़के के कारण सवारियां पहले से भी कम होने लगीं।उसके बाद फिर से समय और व्यवस्था में बदलाव किया गया है।

 

  • Delhi to kathmandu bus new route and time.
  • अब बस सीधे अंबेडकर टर्मिनल से ही चलेगी बस।

अब मजनू का टीला नहीं जाएगी। अब का रवाना होने का समय फिर से सुबह 10 बजे किया गया है।तीन नवंबर 2014 को शुरू हुई इस सेवा को आधिकारिक तौर पर भारत-नेपाल मैत्री बस सेवा के रूप में जाना जाता है।अब नए मार्ग के तहत बस का संचालन लखनऊ एक्सप्रेस हाइवे यानी नए सर्वेक्षण मार्ग से किया जा रहा है।इससे लगभग 49 किमी दूरी कम होगी। इस यात्रा के दौरान बस का ठहराव तीन जगह है।

Leave a Reply