Thursday, December 2

एक तरफ सूखी यमुना नदी , तो दूसरी ओर दिखे जहरीले झाग

कालिंदी कुंज में स्थित यमुना नदी में फिर दिखे जहरीले झाग

राजधानी दिल्ली में बहने वाली यमुना नदी पहले से दूषित थी ।मंगलवार को को कालिंदी कुंज के पास यमुना नदी की सतह पर जहरीला झाग तैरता हुआ दिखा। यमुना के पानी में प्रदूषक तत्वों की मात्रा बढ़ने को लेकर दिल्ली सरकार कई बार चिंता जता चुकी है, लेकिन अब तक इस समस्या पर काबू नहीं पाया जा सका है।

हरियाणा से दिल्ली पहुंचते ही सुखी यमुना नदी

आज यमुना नदी की एक भयानक तस्वीर सामने आई है. दिल्ली पहुंचते ही यमुना नदी सूख गई है. 55 साल बाद यमुना नदी का ऐसा नजारा चौंकाने वाला है। पिछले एक हफ्ते तक जिस जगह (रिवर बेड) 8 से 9 फीट की ऊंचाई तक यमुना नदी बह रही थी, वह नदी का इलाका अब पूरी तरह सूख गया है.

दिल्ली में जल संकट

दिल्ली जल बोर्ड से मिली जानकारी के मुताबिक यमुना में पानी न होने के चलते तीन वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट के प्रोडक्शन पर असर पड़ा है. वजीराबाद प्लांट की क्षमता 135 एमजीडी से घटकर 80 एमजीडी हो गई है.दूसरी चंद्रवाल वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की क्षमता 90 एमजीडी से घटकर 55 एमजीडी पर पहुंच गई है और तीसरी वजह ओखला वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट की क्षमता 20 एमजीडी से घटकर 12 एमजीडी रह गई है.

Leave a Reply