Tuesday, January 25

गांव-गांव तक पहुंचा कोरोना ,संक्रमण पर काबू पाने के लिए जारी हुई गांवों के लिए कोरोना गाइडलाइन

सरकार ने गांव के लिए नई कोरोना गाइडलाइन जारी

शहर-शहर में कोरोना का प्रकोप दिखने के बाद अब कोरोना का असर गांव में भी दिखना शुरू हो चूका है , वही इस लहर पर काबू पाने के लिए सरकार ने गांव के लिए नई कोरोना गाइडलाइन जारी कर दी हैं। गाइडलाइन में ग्रामीण क्षेत्र के अलावा बाहरी शहरी इलाकों और जनजातीय क्षेत्रों के लिए भी दिशा-निर्देश दिए गए हैं. जिसके तहत कोरोना के स्तर राखी जयेगी।

क्या क्या होंगी गाइडलाइन?

हर गांव में ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता और पोषण समिति (VHSNC) की मदद से समय-समय पर इन्फ्लूएंजा जैसे – बुखार/वायरल इंफेक्‍शन/गंभीर श्वसन संक्रमण आदि के लिए निगरानी की जानी चाहिए. इसके अलावा सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी (CHO) से टेलीकंसल्टेशन के जरिए इन मामलों की तीव्रता जांचने के लिए कहा गया है. साथ ही जिन लोगों में ऑक्‍सीजन लेवल कम पाया जाता है या जिन लोगों को अन्‍य बीमारियां हैं, उन्‍हें जिला अस्‍पतालों या अन्‍य बड़े अस्‍पतालों में भेजने के लिए कहा गया है।

रिपोर्ट आने तक आइसोलेट रहेंगे मरीज

मंत्रालय ने कहा है कि मरीजों की रिपोर्ट आने तक उन्‍हें आइसोलेट रहने के लिए कहा जाना चाहिए. वहीं ऐसे बिना लक्षण वाले लोग जो कोविड मरीज से 6 फीट की दूरी पर बिना मास्‍क के यदि 15 मिनट तक संपर्क में आए हैं, तो उन्‍हें क्‍वारंटीन में रहना चाहिए. साथ ही कहा गया है कि ग्रामीण क्षेत्रों में परिवारों को ऋण पर थर्मामीटर और पल्स ऑक्सीमीटर दिए जा सकते हैं. साथ ही आईसीएमआर प्रोटोकॉल के अनुसार उनके टेस्‍ट किए जाने चाहिए. गाइडलाइन में कॉन्‍टेक्‍ट ट्रैसिंग पर भी बात की गई है

Leave a Reply

error: Your Instant article will be Lost.