Saturday, January 23

  चलो अब विकास की बात करते हैं…

चलो अब विकास की बात करते हैं…

चुनाव आने वाले हैं और चुनाव अभियान खत्म हो उससे पहले ही पीएम मोदी ने 4 पन्नों का एक पत्र लिखा है। मोदी ने कहा है कि मतदान करने से पहले एक बार विकास के बारे में सोच लेना। बिहार में अंतिम चरण के मतदान होने वाले हैं इसलिए मोदी सरकार ने बिहार को विकास के बारे में सोचने की सलाह दी है । पीएम मोदी ने कहा है कि वोट इस बार जाति के आधार पर नहीं बल्कि विकास के आधार पर पड़ने चाहिए।

 

पत्र को जोड़ा विकास से…

पीएम मोदी ने अपने 4 पन्नों के पत्र में विपक्ष पर कोई निशाना नहीं साधा। उन्होंने इस पत्र को सिर्फ विकास से जोड़ा है । इस पत्र में बिजली, पानी , सड़क , इलाज ,शिक्षा या क्षेत्र में जो भी काम हुआ है उसका जिक्र किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने पत्र में गरीबों से जुड़ी योजनाओं के बारे में बताया है। उन्होंने एयरपोर्ट वाटर पोर्ट में हुए सुधार भी जिक्र किया है।

 

की है दो अपील…

अपने पत्र में पीएम मोदी ने यह भी याद दिलाया है कि हर गरीब को घर-घर शौचालय , पक्का मकान , नल से जल , गैस कनेक्शन बिना किसी भेदभाव के हर किसी तक पहुँचाया गया है और आगे भी पहुंचाने का काम किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पत्र में दो अपील की हैं – पहली अपील उन्होंने यह की है कि जाति के आधार पर मतदान ना करें बल्कि विकास के आधार पर मतदान करें।
यह की है कि राज्य में अच्छे से लागू हो और वह योजनाएं बीच में अटके ना इसके लिए जरूरी है कि बिहार में नीतीश सरकार आए।

चुनावी रैलियां तेज हो गई है, साथ ही भाषणों ने भी गति पकड़ ली है। अब देखना यह होगा कि बिहार में कौन आता है? बिहार के लोग प्रधान सेवक की इस अपील को स्वीकार करते हैं या नही ?

Leave a Reply