Saturday, June 19

दिल्ली: कई एक्टिविस्ट ने विकलांग व्यक्तियों के टीकाकरण के लिए घर पर ही वैक्सीनेशन लगाने की मांग की

विकलांग व्यक्तियों को घर पर मिले टिका

कोविड -19 के वैक्सीन के लिए विकलांग व्यक्तियों की भेद्यता की ओर इशारा करते हुए, कई विकलांगता अधिकार कार्यकर्ता ने मांग की है की विकलांग लोगों के लिए घर पर ही वैक्सीन की सुविधा मुहैया करवाया जाये। दिल्ली उच्च न्यायालय के अधिवक्ता पंकज सिन्हा ने “प्राथमिकता के आधार पर” विकलांग व्यक्तियों के टीकाकरण के लिए “बाधा मुक्त पहुंच” के मुद्दे को उठाते हुए कहा कि उन्हें उनके निवास स्थान पर टीका लगाया जाना चाहिए।

पंकज सिन्हा ने बताया की…..

“लॉकडाउन के दौरान टीकाकरण केंद्र पर जाना विकलांग व्यक्तियों के लिए वास्तव में कठिन है क्योंकि उन्हें एक परिचारक की आवश्यकता होती है, और तो और , इससे न केवल विकलांग व्यक्तियों के लिए बल्कि उनके देखभाल करने वालों के लिए भी उच्च जोखिम होता है … डब्ल्यूएचओ और यूनिसेफ अपने में 21 अप्रैल को अनावरण किए गए पॉलिसी ब्रीफ में यह भी कहा गया है कि विकलांग लोग कोरोनोवायरस से असमान रूप से प्रभावित होते हैं … COVID टीकाकरण तक पहुंच में समानता होनी चाहिए, और वैक्सीन प्राथमिकता में इन कमजोरियों और जोखिमों को ध्यान में रखना चाहिए, ”

Leave a Reply