Monday, September 27

दिल्ली के अस्पतालों में आई रक्तदान में कमी, ऑक्सीजन के बाद अब गहराया दिल्ली में खून का संकट

 

दिल्ली के अस्पतालों में गहराया खून का संकट, रक्तदान में आई कमी

दिल्ली के अस्पतालों में अब ऑक्सीजन के बाद खून का संकट गहराया हुआ हैं। दिल्ली में अभी अस्पताल जाने के नाम से ही ज्यादातर लोग घबरा रहे हैं जिस कारण रक्तदान में भी कमी आ रही हैं। वही लोगों के वैक्सीन लेने के कारण भी रक्तदान ना कर पाना एक वजह है।

रक्तदान में हो रही हैं दिक्कत

दिल्ली के लोदी कॉलोनी के निवासी दिनेश नारायण जो की 42 वर्ष के हैं इन दिनों वह अपोलो में लिवर की बीमारी से लड़ रहे हैं और उन्हे 5 यूनिट रक्त की आवश्यकता है लेकिन उनके परिवार वाले रक्त का इंतजाम नहीं कर पा रहे हैं। अस्पताल वालो का कहना है कि वह बाहर से रक्त नहीं ले सकते हैं, वहां आकर ही दाता को रक्तदान करना होगा लेकिन दिक्कत यह है कि अभी अस्पताल जाने के नाम से ही लोग घबरा रहे हैं।

नियमों के कारण भी बनी मुसीबत

रक्तदान में कमी का एक कारण नियमों में भिन्नता भी है।स्वास्थ्य मंत्रालय ने पहले कहा कि वैक्सीन लेने के 3 महीने बाद ही रक्तदान कर सकते है लेकिन अब उनका कहना है कि 14 दिन बाद रक्तदान कर सकते हैं।

बी पॉजिटिव रक्तदान में भी दिक्कत

अस्पतालों में बी पॉजिटिव ब्लड ग्रुप को लेकर पहले कोई समस्या नहीं होती थी लेकिन अब बी पॉजिटिव रक्तदान में भी दिक्कत आ रही है। दिल्ली के ज्यादातर अस्पतालों में इस ब्लड ग्रुप को लेकर भी कमी होने लगी है।

About Shikha Karn

Journalist from Delhi. Sharing developments buzz of Delhi keeps positive in me and I share the vibe via www.delhibreakings.com

Leave a Reply