Thursday, December 2

दिल्ली के इलाक़ों, कालोनियों की लिस्ट जारी, यहाँ होती हैं सबसे ज़्यादा सनैचिंग, बाहर जाने वाले ध्यान दें

राजधानी की सड़कों पर रोजाना औसतन 30 लोग झपटमारों के शिकार हो रहे हैं। गत आठ अक्टूबर से लेकर 11 नवंबर के बीच दिल्ली में झपटमारी की 1018 वारदातें हुई हैं। इस अवधि के दौरान गत वर्ष 2020 में 928 झपटमारी की घटनाएं हुई थीं। यह आंकड़ें हाल में हुई पुलिस आयुक्त की बैठक में बताए गए हैं।

 

झपटमारी के साथ अन्य अपराधों में बढ़ोतरी

इस बैठक में आठ अक्टूबर से लेकर 11 नवंबर के बीच हुए अपराध को लेकर चर्चा की गई। इसमें पता चला कि आठ अक्टूबर से 11 नवंबर के बीच राजधानी में झपटमारी के साथ अन्य अपराधों में बढ़ोतरी हुई है। वाहन चोरी की 3894 घटनाएं वर्ष 2021 में इस अवधि के दौरान हुई जबकि वर्ष 2020 में इस अवधि के दौरान 3663 गाडि़यां चोरी हुई थीं। लूट की घटनाओं में भी इस अवधि के दौरान वृद्धि दर्ज की गई है।

जांच कर आरोपितों को गिरफ्तार करने का आदेश

2021 में इस अवधि के दौरान जहां लूट की 247 वारदातें हुई हैं तो वहीं 2020 में इस दौरान 224 वारदातें हुई थी। बैठक में आुयक्त ने वरिष्ठ अधिकारियों को कहा है कि किसी भी अपराध को छोटा न मानें और गंभीरता से उसकी जांच कर आरोपितों को गिरफ्तार करें। उन्होंने राजधानी में बढ़ रही आपराधिक घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं।

आठ अक्टूबर से 11 नवंबर के बीच हुई जिलावार झपटमारी की वारदातें

उत्तर पश्चिम ———-63

रोहिणी—————-77

बाहरी उत्तरी————52

पूर्वी——————112

उत्तर पूर्वी————–67

शाहदरा—————-94

औसतन

मध्य——————87

उत्तरी—————–103

दक्षिणी—————-57

दक्षिणी पूर्वी————55

पश्चिम—————54

बाहरी—————-88

द्वारका—————-61

नई दिल्ली————12

दक्षिण पश्चिम———35

रेलवे—————-01

गत व इस वर्ष आठ अक्टूबर से 11 नवंबर के बीच हुई अन्य संगीन आपराधिक वारदातें

वर्ष 2020

हत्या—————-44

लूट—————–224

चोरी—————-221

हत्या के प्रयास——–56

वाहन चोरी———–3663

वर्ष 2021

हत्या—————-45

लूट—————–247

चोरी—————-268

हत्या के प्रयास——–105

वाहन चोरी———–3894

 

वर्षवार झपटमारी के आकंड़ें

वर्ष———–वारदातें

2021———-7504

2020———-6318

2019———-7965

2018———-6266

2017———-6932

(नोट : वर्ष 2021 के आकड़े एक जनवरी से 31 अक्टूबर तक के हैं।)

 

यहां पर होती है अधिक झपटमारी

आनंद विहार, विवेक विहार, जगतपुरी, जामा मस्जिद, गोविंदपुरी, जीटीबी एंक्लेव, शाहदरा, यमुना विहार, भजनपुरा, द्वारका मोड़, उत्तम नगर, जनकपुरी वेस्ट, जनकपुरी ईस्ट, कृष्णा नगर, मदर डेयरी, पांडव नगर, तिलक नगर, शादीपुर, चांदनी चौक, कश्मीरी गेट, आदर्श नगर, डीयू, जहांगीरपुरी, मयूर विहार, न्यू अशोक नगर, पहाड़गंज समेत कई अन्य इलाकों में झपटमारी की वारदातें अक्सर होती रहती हैं.

Leave a Reply