Friday, March 5

दिल्ली गाजीपुर बॉर्डर पर टैंक में घोला जाने लगा छाछ, अब गर्मी में आंदोलन को और मज़बूत करने की तैयारी

भारत में चल रहा है किसान  आंदोलन दिन प्रतिदिन नया रूप ले रहा है. जब ठंड थी तब अलग-अलग बॉर्डर पर टिके हुए किसान नेता और उनके सहयोगी चाय के स्टॉल लगा रखे थे और आंदोलन में गर्मजोशी भर रहे थे.

अब मौसम ने करवट लेना शुरू कर दिया है तो गाजीपुर बॉर्डर पर चाय के स्टॉल सुने होते चले गए हैं तो वहीं अब बड़े-बड़े टैंक में छाछ पीने के लिए किसान दही और मट्ठे का इस्तेमाल कर बड़ी मात्रा में छाछ बना रहे हैं.

Image

तस्वीरें गाजीपुर बॉर्डर से नवभारत टाइम्स ने अपने टि्वटर हैंडल पर साझा किया है जिसे आप देखकर मौके के परिपेक्ष्य को समझ सकते है.

 

Image

 

मौसम बदलने के साथ गाजीपुर बॉर्डर पर चाय के स्टॉल पर सूनापन, वहीं अब छाछ पीने के लिए लोग लगा रहे लाइनें।

Leave a Reply