Sunday, October 17

दिल्ली पुलिस भर्ती के फिजिकल टेस्ट में हेड़ा-फेड़ी , असली कैंडिडेट की जगह दूसरे दे रहे टेस्ट

पुलिस भर्ती के फिजिकल टेस्ट में हो रही हेड़ा-फेड़ी

वजीराबाद स्थित पुलिस ट्रेनिंग स्कूल (PTS) में चल रहे फिजिकल एंडयोरेंस और मेजरमेंट टेस्ट में अब तक 10 ऐसे युवकों की पोल खुल चुकी है, जो दूसरों की जगह टेस्ट देने पहुंचे थे। पिछले साल हुए कंप्यूटर बेस्ड टेस्ट (CBT) के बाद 67,740 कैंडिडेट्स को फिजिकल टेस्ट के लिए बुलाया गया है। यह टेस्ट 27 जुलाई तक चलना है। आशंका है कि अगले कुछ दिन में फर्जीवाड़ा करने वालों की तादाद बढ़ सकती है।

पुलिस ने बरती सख्ती

पुलिस अफसरों ने बताया कि भर्ती के लिए चल रहे फिजिकल टेस्ट के दौरान एसएससी की वेबसाइट पर अप्लिकेशन के साथ अपलोड फोटो को फिजिकल टेस्ट टिकट पर लगी फोटो से मिलाया जा रहा है। इसी स्क्रूटिनी के दौरान 9 जुलाई को फर्जीवाड़े के 9 केस सामने आए हैं। शुरुआती जांच में दो केसों में लग रहा है रिटन टेस्ट में असली कैंडिडेट बैठा था, लेकिन फिजिकल टेस्ट के लिए दूसरे को भेज दिया। इन केसों में दोनों युवक हरियाणा के हैं।
पुलिस को सॉल्वर गैंग का शामिल होने का शक

पुलिस को शक है कि इन सात फर्जीवाड़े में सॉल्वर गैंग शामिल हो सकता है, क्योंकि रिटन टेस्ट में फर्जी कैंडिडेट बैठा था। फिजिकल टेस्ट में फर्जीवाड़े का पहला केस 2 जुलाई को सामने आया था। भिवानी के हिमांशु ताखर की जगह टेस्ट देने पहुंचे प्रदीप को पकड़ा गया था।

Leave a Reply