Saturday, January 23

दिल्ली में फिर हुई कोरोना की वापसी, दिल्ली सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों की बताई यह वजह

एक नजर पूरी खबर

  • सीएम केजरीवाल का कहना है कि, “दिल्ली में कोरोना मामले ज्यादा टेस्टिंग की वजह से बढ़ रहे हैं।
  • दिल्ली मे कोविड-19 स्थिती पूरी तरह से नियंत्रित है लेकिन हमें आत्म संतुष्ट नहीं होना चाहिए।”
  • अगर मल्टीफॉल्ड परीक्षण के कारण संख्या बढ़ती है तो चिंता की बात नहीं।
  • मुख्यमंत्री ने बताए कोरोना के वर्तमान आंकड़े।
  • लुटियन दिल्ली केंद्र सरकार के कार्यालय में खुलेंगे कोरोना जांच शिविर।

दिल्ली में एक बार फिर कोरोना वायरस चरम पर पहुंचता जा रहा है। ऐसे में शनिवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सबसे हिम्मत बनाए रखने की अपील की है। सीएम केजरीवाल का कहना है कि, “दिल्ली में कोरोना मामले ज्यादा टेस्टिंग की वजह से बढ़ रहे हैं। अगर हम टेस्टिंग कम कर दें, तो कोरोना केस कम हो जाते, लेकिन हमें आकड़ों की चिंता नहीं है। हमने टेस्टिंग बढ़ा कर कोरोना पर हमला कर दिया है। मैं आपको आश्वस्त करना चाहता हूं कि, घबराने की कोई बात नहीं है, दिल्ली मे कोविड-19 स्थिती पूरी तरह से नियंत्रित है लेकिन हमें आत्म संतुष्ट नहीं होना चाहिए।”

अगर मल्टीफॉल्ड परीक्षण के कारण संख्या बढ़ती है तो चिंता की बात नहीं

सीएम ने कहा कि, “हमने परीक्षण दो गुना कर दिया है, बाजारों, बस स्टैंडों, मुहल्ला क्लीनिकों आदि में परीक्षण शुरु कर दिया है। संक्रमित लोगों को अलग करें और उन्हें अच्छा उपचार प्रदान करें। मैंने अधिकारियों से कहा है कि, यदि मल्टीफॉल्ड परीक्षण के कारण संख्या बढ़ती है तो चिंता न करें।”https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1302151582193074176?s=08

मुख्यमंत्री ने बताए कोरोना के वर्तमान आंकड़े

मुख्यमंत्री ने बताया कि, 15 अगस्त और आज के बीच के आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय मृत्यु दर 1.7% की तुलना में दिल्ली में कोविड-19 रोगियों की मृत्यु दर 1% है। साथ ही रिकवरी रेट राष्ट्रीय स्तर पर 77% की तुलना में 87% है। साथ ही उन्होंने कहा कि, हमारा प्रयास है कि, कोरोना के कारण मृत्यु नहीं होनी चाहिए। कल मृत्यु का आंकड़ा गिरकर 13 पर आ गया है। जोकि, कुल मामलों के 0.4% है । जोकि सब से कम है।

टियन दिल्ली केंद्र सरकार के कार्यालय में खुलेंगे कोरोना जांच शिविर

बता दें कि, सीएम केजरीवाल के निर्देश के मुताबिक हर रोज कोरोना वायरस जांच की संख्या बढ़ाकर 40,000 करने के उद्देश्य से

अगले सप्ताह से लुटियन दिल्ली में केंद्र सरकार के कार्यालयों के बाहर जांच शिविर लगाए जाएंगे।

Leave a Reply