Friday, September 17

दिल्ली में ये सारे काम होंगे केवल ऑनलाइन, नया सेवा चालू होते ही बिना ऑफ़िस गये 3086 लोगों का बन गया लाइसेन्स

दिल्ली सरकार ने परिवहन विभाग की सभी अथारिटी (एमएलओ दफ्तर) का काम फेसलेस कर दिया है। इसके बावजूद यदि कोई व्यक्ति परिवहन विभाग के दफ्तर पहुंचता है, तो उसे निराश होकर नहीं लौटना पड़ेगा। दरअसल, दिल्ली सरकार ने सभी अथारिटी पर सुविधा सेवा केंद्र बनाने का निर्णय लिया है। यहां तैनात सहायक बहुत कम पैसे पर लोगों का आनलाइन आवेदन करा देगा। इस संबंध में परिवहन विभाग ने सार्वजनिक सूचना जारी कर दी है। इस कदम से साइबर कैफे मालिकों के शुल्क वसूलने की मनमानी पर भी रोक लग सकेगी।

 

सरकार ने दूसरी सुविधा मोबाइल सहायक की दी है। इनके सहयोग से आवेदन भरवाने के लिए 50 रुपये के शुल्क का भुगतान करना होगा। इसके लिए 1076 नंबर पर काल करना होगा। सहायक घर आकर आनलाइन आवेदन करा देगा। वहीं फेसलेस से जुड़ी समस्याओं के समाधान को लेकर परिवहन विभाग ने तीन उपायुक्त नियुक्त किए हैं।

3086 लोगों के बने लर्निग लाइसेंस

फेसलेस सुविधा के शुरू होने के बाद 11 से लेकर 13 अगस्त की शाम चार बजे तक 8370 आवेदन प्राप्त हुए हैं। इसमें घर बैठकर लर्निग लाइसेंस बनवाने वालों की संख्या 3086 पहुंच गई है, जबकि वाहन के मालिकाना हक का हस्तांतरण 1433, डीएल नवीकरण 1248, डीएल में पता बदलवाने वाले 458, पुन: डीएल जारी कराने के लिए आवेदकों की संख्या 247 रही है।

Leave a Reply