Tuesday, March 2

दिल्ली-मेट्रो रच रही नया इतिहास, पूरे देश में पहला सबसे ज़बरदस्त तैयारी कर चौंकाया. ये सारे Station देंगे सबसे ऊँची सेवा

देशभर में बढ़ रहे कोरोना वायरस ( coronavirus ) के चलते लगाए गए लॉकडाउन ( Lockdown ) खत्म होने के बाद दिल्ली मेट्रो ( Delhi Metro )के चौथे चरण का निर्माण काम शुरू हो गया। खास बात यह है कि दिल्ली मेट्रो ने इस निर्माण काम के साथ एक नया इतिहास रचने की ओर कदम भी बढ़ा दिया है। 
आपको बता दें कि DMRC निर्माण में काम में तेजी के साथ ही दिल्ली मेट्रो के फेज-4 के तहत बनने वाले जनकपुरी वेस्‍ट ( Janakpuri West ) – आरके आश्रम मार्ग ( RK Ashram Marg ) कॉरिडोर पर नया इतिहास लिखने जा रहा है।

भले ही लॉकडाउन ने देश में कारोबार की कमर तोड़ दी हो, लेकिन दिल्ली मेट्रो ना सिर्फ इससे उबरा बल्कि निर्माण काम में एक नया कदम आगे बढ़ाया।

8 मंजिला इमारत से ज्यादा ऊंचाई से गुजरेगी मेट्रो
दिल्ली मेट्रो फेज 4 के तहत जमनपुरी वेस्ट से आरके आश्रम मार्ग कॉरिडोर पर नया इतिहास बनाने जा रहा है। इस कॉरिडर में निर्माण के बाद हैदरपुर बादली मोड़ पर दिल्ली मेट्रो की ट्रेनें 8 मंजिला इमारत से भी ज्यादा ऊंचाई से गुजरेंगी।

यात्री करेंगे अद्भुत अनुभव 
दिल्ली मेट्रो के इस कदम के साथ ही ये मेट्रो यात्रियों के लिए भी एक अद्भुत अनुभव के सम नहीं होगा। आठ मंजिला ऊंची इमारत से भी ज्यादा ऊंचाई से लोग मेट्रो में यात्रा कर सकेंगे।

दिल्ली मेट्रो के मुताबिक, जनकपुरी वेस्‍ट-आरके आश्रम मार्ग कॉरिडोर के निर्माण के दौरान हैदरपुर बादली मोड़ के पास 28 मीटर की ऊंचाई पर एक वायाडक्‍ट का निर्माण भी किया जाएगा।

अब तक मयूर विहार फेज-1 सबसे ऊंचा स्टेशन
इसके बाद हैदरपुर बादली मोड़ का प्‍लेटफॉर्म फेज-3 स्‍टेशन के भी ऊपर 23.5 मीटर की ऊंचाई पर होगा। आपको बात दें कि अब तक सिर्फ पिंक लाइन पर मयूर विहार फेज-1 स्‍टेशन सबसे ऊंचा है, जो 22 मीटर का है। वहीं, इसके बाद कड़कड़डूमा है, जो 20 मीटर है।

ये है इस फेज की खासियत
– 28.92 किमी लंबा कॉरीडोर (जनकपुरी वेस्ट से आरके आश्रम मार्ग) 
– इस प्रोजेक्ट के जरिए मैजेंटा लाइन का विस्तार 
– 22 स्टेशनों का इस कॉरीडोर के दौरान होगा निर्माण 
– दिसंबर 2019 से शुरू हुआ था विशेष कंड पर निर्माण का काम
– 45 मेट्रो स्टेशन वाले फेज चार के तहत तीन अलग-अलग कॉरीडोर होंगे। 
– 61.679 किमी लंबी नई मेट्रो लाइन का निर्माण होगा 
– 22.35 किमी हिस्सा अंडरग्राउंड होगा। 
– 28.9 किमी लंबे जनकपुरी वेस्‍ट-आरके आश्रम मार्ग कॉरिडोर के 2022 तक पूरा होने की उम्‍मीद है। 
– 22 स्टेशन के साथ इनमें मैजेंटा लाइन का एक्सटेंशन होगा

Leave a Reply