Sunday, October 17

दिल्ली – यमुना ExpressWay पर नया व्यवस्था चालू, 10 सेकंड रुकना होगा TOLL PLAZA पर

यमुना एक्सप्रेस-वे पर 15 जून से इलेक्ट्रानिक टोल कलेक्शन सिस्टम (फास्टैग) लागू होने जा रहा है। तीनों टोल प्लाजा पर इसके लिए सभी व्यवस्था कर ली गई हैं। कार्मिकों को प्रशिक्षित किया गया है। फास्टैग बनवाने और अपडेट करने की व्यवस्था भी टोल के आसपास रहेगी। यमुना एक्सप्रेस-वे अथारिटी के सीईओ डा. अरुणवीर सिंह व महाप्रबंधक प्रोजेक्ट केके सिंह ने बताया कि एक्सप्रेस-वे पर कई बार फास्टैग सिस्टम लागू करने के प्रयास किए गए, लेकिन एक्सप्रेस-वे का निर्माण और सहयोगी कंपनी जेआइएल, आइआरवी, एनपीसीआइ में सामंजस्य के अभाव में नहीं हो सका। अब इनमें सहमति बन गई है।

 

 

टोल प्लाजा पर समय की होगी बचत

एक्सप्रेस-वे पर फास्टैग शुरू होने से यात्रियों के टोल प्लाजा पर लगने वाले समय की बचत होगी। एक्सप्रेस-वे पर नोएडा और आगरा के बीच में जेवर, मथुरा और आगरा टोल प्लाजा हैं। एक्सप्रेस वे पर सामान्य स्थिति में 24 से 25 हजार छोटे-बड़े वाहन प्रतिदिन गुजरते हैं। खंदौली टोल प्लाजा इंचार्ज तुलसीराम गुर्जर ने बताया कि कोरोना काल में भी यमुना एक्सप्रेस वे से रोजाना 12 से 13 हजार वाहन गुजर रहे हैं। फास्टैग का काम अंतिम चरण में चल रहा है, 15 जून से यह लागू होगा। मांट टोल के प्रोजेक्ट मैनेजर सैयद रफी अहमद रिजवी ने बताया कि एक दिन पहले इसका ट्रायल किया जाएगा।

 

सिर्फ 10 सेकेंड में होगी टोल की वसूली

एनएचएआइ की नई गाइड लाइन के मुताबिक, टोल प्लाजा को यह सुनिश्चित करना होगा कि वाहन चालकों को अब 10 सेकेंड से ज्यादा समय का इंतजार नहीं करना पड़े, चाहे वह व्यस्ततम समय ही क्यों ना हो। एक्सप्रेस वे के सभी टोल प्लाजा पर शुरुआत में टोल गेट के दोनों ओर दो लेन में फास्टैग की सुविधा होगी। भविष्य में लेन की संख्या को बढ़ाया जाएगा।

15 फरवरी से हर राष्ट्रीय राजमार्ग पर FASTag प्रणाली लागू

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने इस साल 15 फरवरी से हर राष्ट्रीय राजमार्ग पर FASTag प्रणाली लागू की थी। यमुना एक्सप्रेसवे औद्योगिक विकास प्राधिकरण ने पहली बार घोषणा की थी कि फास्टैग प्रणाली 1 फरवरी से शुरू होगी। हालांकि, कई कारणों से फास्टैग को लागू करने की प्रक्रिया में देर होती रही लेकिन आखिरकार अब 15 जून से फास्टैग को अनिवार्य कर दिया गया है।

हाल ही में, NHAI ने देश भर में FASTag सुविधा वाले टोल प्लाजा के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं जिसके अनुसार पीक आवर्स में अब प्रति वाहन के हिसाब से मैक्सिमम 10 सेकेंड का सर्विस टाइम सेट कर दिया गया है। इतना ही नहीं बल्कि अब टोल प्लाजा पर 100 मीटर से ज्यादा लंबी वाहनों की लाइन लगाने की अनुमति नहीं होगी। ख़ास बात ये है कि अगर वाहनों की लाइन 100 मीटर से ज्यादा हो जाएगी तो वाहनों को बिना टोल चुकाए ही जाने की अनुमति दे दी जाएगी। यह कदम उठाने का मकसद यातायात को बिना बाधित किए हुए सुचारु रूप से चलाए रखना है।

Leave a Reply