Friday, June 18

नर्सिंग स्‍टाफ के मलयालम भाषा में बात करने पर बैन , कई लोगों ने की आलोचना , बवाल के बाद सर्कुलर वापस

मलयालम में बोलने पर बवाल

देश की राजधानी दिल्ली के एक सरकारी अस्पताल में नर्सिंग स्‍टाफ के मलयालम में बात करने पर रोक लगा दी गयी थी । गोविंद बल्लभ पंत इंस्टिट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च ने शनिवार को एक सर्कुलर जारी किया। जिस कारन अस्‍पताल प्रशासन की कड़ी आलोचना हो रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट क‍िया। बाद में अस्‍पताल प्रशासन ने सर्कुलर वापस ले लिया। उन्‍होंने कहा कि बिना उनकी जानकारी से यह सर्कुलर जारी कर दिया गया था।

सर्कुलर में यह था आदेश

सर्कुलर में अस्‍पताल ने कहा, ‘संवाद के लिए केवल हिंदी और अंग्रेजी का उपयोग करें या ‘कड़ी कार्रवाई’ का सामना करने के लिए तैयार रहें।’ अस्‍पताल प्रशासन ने वजह बताई है कि ‘अधिकतर मरीज और सहकर्मी इस भाषा को नहीं जानते हैं।’

Leave a Reply