Thursday, January 21

पड़ोसी को मारपीट से बचाते हुए 23 वर्षीय युवक की कर दी हत्या

पुलिस ने गुरुवार को रोहिणी के सवादा गांव में पांच लोगों को एक 23 वर्षीय व्यक्ति की हत्या करने के लिए गिरफ्तार किया है जो एक लड़के को उन पाँचो की मारपीट से बचा रहा था। पीड़ित शौकत एक फोटोग्राफर था जिसने अपने पड़ोसी रीहान (18) को भीड़ से बचाने की कोशिश की थी।

पुलिस ने कहा कि आरोपियों की पहचान अंकित, विकास, विशाल, हरीश और अजय के रूप में हुई है जिनकी आयु 18-19 वर्ष है। घटना कंझावला में मंगलवार रात को हुई। पुलिस ने कहा कि पाँचो आरोपी रीहान के घर पर उसके दोस्त सईदर (19) के ठिकाने का पता लगाने के लिए गए थे। पुलिस ने कहा उन्हें शक था कि सईदर और अंकित एक ही लड़की के साथ संबंध में थे और सईदर के साथ मारपीट करना चाहते थे। आरोपियों ने रेहान के घर के बाहर पथराव किया और अंदर घुसने की कोशिश की। उन्होंने कथित तौर पर ईंटों और चाकू से स्थानीय लोगों को धमकाया। पास में रहने वाले शौकत ने उन्हें रोकने की कोशिश की उसपे लेकिन ईंटों से वार किया गया और चाकुओं से हमला किया गया। उसके सिर पर चोटें आईं।

डीसीपी (रोहिणी) पी के मिश्रा ने कहा, “हमें गांव के कुछ स्थानीय लोगों से पथराव और हिंसा के बारे में फोन आया। जब हम मौके पर पहुँचे तो हमें दो आदमी ज़मीन पर पड़े मिले। उन्हें नज़दीकी अस्पताल ले जाया गया। रेहान को कुछ देर बाद छुट्टी दे दी गई लेकिन बुधवार सुबह सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान शौकत की मौत हो गई। ”

बुधवार को शौकत का पोस्टमार्टम किया गया और शव को उसके परिवार को लौटा दिया गया लेकिन उन्होंने अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया। पुलिस ने कहा कि परिवार ने 200 अन्य स्थानीय लोगों के साथ कंझावला में एक विरोध प्रदर्शन किया और बुधवार को एक सड़क को अवरुद्ध कर दिया।

शौकत के पिता रहमान ने कहा, “मेरा बेटा निर्दोष था और केवल आरोपियों को रोकने की कोशिश कर रहा था। आरोपी हमारे इलाके के लोगों पर हमला कर रहे थे। ऐसा नहीं होना चाहिए था। पुलिस को जल्द आकर और मेरे बेटे को बचाना चाहिए था। लोग घरों के बाहर पथराव कर रहे थे … हम असुरक्षित महसूस कर रहे है क्योंकि सात से अधिक लोग थे लेकिन पुलिस ने केवल पांच को गिरफ्तार किया है। क्या होगा अगर वे वापस आकर हमारे बच्चों को फिर से चोट पहुँचाएँगे? हमने शौकत को तब तक नहीं दफ़नाएँगे जब तक पुलिस सभी को गिरफ्तार करके उनपे सख़्त कानूनों के तहत मुक़दम्मा दर्ज नहीं करती। फिलहाल पुलिस ने शांति बनाए रखने के लिए उस इलाके में बल की तैनाती की है

Leave a Reply