Saturday, May 8

महामारी ने ली माँ की जान , 1 साल की बच्ची को थी माँ के दूध की जरुरत , मदद के लिए कई लोग आए सामने

महामारी ने ली माँ की जान

इस महामारी में कई मामले ऐसे आये है जहां 10 या 12 साल के बच्चों ने अपने पैरेंट्स को खो दिया है और उनका भविष्य हमारे समाज की सबसे बड़ी चिंता बनगयी है . इस बीच कई ऐसे लोग भी है जो लोगों से मदद की गुहार भी लगा रहे है और कुछ जो ऐसे बच्चों की मदद करने में सक्षम हैं. इसके साथ सोशल मीडिया इन बच्चो की मदद के लिए एक बहतरीन प्लेटफार्म बन चूका है। अब एक ऐसी घटना सामने आयी जहाँ 1 साल की नन्ही सी जाएं ने महामारी के चलते अपनी माँ को खो दिया , अब इस बच्ची को माँ के दूध की आवस्यकता थी ऐसे में ऑनलाइन माध्यम से कई ऐसे लोग सामने आये जो की इस बच्ची की मदद करने के लिए तैयार थे।

ऐसे बच्चो के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी

हलाकि ऐसे बच्चे जिनके माँ -बाप इस महामारी में जिनकी जान चली गयी है उनके लिए दिल्ली बाल अधिकार संरक्षण आयोग (डीसीपीसीआर) ने पहल की है. डीसीपीसीआर ने ऐसे बच्चों और परिवार के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी की है. डीसीपीसीआर के अध्यक्ष अनुराग कुंडू ने कहा कि ऐसे बच्चों पर नजदीक से नजर रखें और हेल्पलाइन के जरिए 24 घंटे मदद सुनिश्चित की जाए.जिससे बच्चों के लिए दवाइयां, भोजन, आश्रय, कपड़े आदि आवश्यक जरूरतों की आपूर्ति की जाती है.
उन बच्चों की मदद करने के लिए जिन्होंने अपने माता-पिता को COVID में खो दिया है या किसी भी अवैध गोद लेने वाले विज्ञापन / गतिविधि की रिपोर्ट करने के लिए:

# 112 पर दिल्ली पुलिस को बुलाओ
# 2 एनसीपीसीआर हेल्पलाइन 18001212830
# 3 DCPCR हेल्पलाइन 9311551393
# 4 चाइल्डलाइन 1098 पर
# 5 acpaks@ymail.com पर AHTU / क्राइम ब्रांच को ईमेल करें

Leave a Reply