Friday, June 18

मुसीबत में मिला खाकी वर्दी का साथ , बेटी की शादी स्थगित कर, कोविद से जूझ रहे 1100 लोगों की मदद !

मुसीबत में मिला खाकी वर्दी का साथ

शायद हमे इस बात का अंदाजा नहीं था की कभी असा दिन भी देखना पड़ेगा जब लाशों का ढेड़ सामने पड़ा होगा और उस चिटा को अग्नि देने भी साथ नहीं दे पाएंगे , ऐसे में एक ऐसा शक्श भी है जो की मानवता में यकीन दिलाता है , दिल्ली पुलिस के एक एएसआई कोरोना से जान गंवाने वालों को न सिर्फ कंधा दे रहे हैं, बल्कि उनके अंतिम संस्कार की सारी जिम्मेदारियां भी निभा रहे हैं। उनका नाम- राकेश कुमार है। 56 साल के एएसआई राकेश कुमार साउथ-ईस्ट दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन थाने में तैनात हैं। घर में पत्नी, बच्चे, पोता, माता-पिता सब हैं, लेकिन कोई उन्हें कोरोना के डर से ये काम करने से मना नहीं करता।

एएसआई राकेश कुमार कहते है

COVID की दूसरी लहर ने देश को तबाह कर दिया है। अभिभूत स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे और श्मशान की वजह से बढ़ती हताहतों के बीच, दिल्ली पुलिस एएसआई राकेश कुमार COVID के कारण मारे गए लोगों के अंतिम संस्कार में मदद के लिए आगे आए हैं। वह लोधी रोड श्मशान में तैनात है। उन्होंने कहा – “मैंने लगभग 1100 लोगों की मदद की है। मैंने टीकों के दोनों शॉट्स लिए हैं और सभी सावधानियां बरती हैं। अगर हम दूसरों की मदद करेंगे, तो परमेश्वर हमारी मदद करेगा। मैंने अपनी बेटी की शादी यहां के लोगों की मदद के लिए स्थगित कर दी है।

Leave a Reply