Saturday, June 19

हरियाणा का एक गांव ऐसा भी , पंचायत ने लिया फैसला , न कोरोना की जाँच करेंगे न पुलिस को गांव में घुसने देंगे

सरकार से नाराज चल रहे ग्रामीण

जब कोरोना से देश में तबाही मची हुई है , शहर से ज्यादा अब गांव प्रभावित है , तब हरियाणा के एक गांव हिसार जिले के मसूदपुर गांव की पंचायत ने बहुत ही चौका देने वाला फैसला लिया है , दरअसल सरकार से नाराज चल रहा यह गांव की पंचायत ने कोरोना के किसी भी गाइडलाइन का पालन करने से इंकार क्र दिया है। गांव क लोग अब लॉकडाउन का पालन नहीं करेंगे यहाँ तक पुलिस को भी गांव में नहीं घुसने देंगे।

कोरोना केयर सेंटर को हटाने का फैसला

इस गांव ने मंगलवार को गांव में पंचायत कर सर्वसम्मति से गवर्नमेंट सीनियर सेकेंडरी स्कूल में बनाए गए कोरोना केयर सेंटर को हटाने का फैसला भी ले लिया गया। इसके अलावा पुलिस प्रशासन और कोरोना जांच से संबंधित किसी भी टीम के गांव में आने पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी गई है। 

क्या क्या फैसले लिए

गांव का कोई भी व्यक्ति कोरोना टेस्ट नहीं करवाएगा
गांव की सभी दुकानें पहले की तरह खुली रहेंगी
गांव में की जाने वाली शादी समारोह में किसी प्रकार की कोई पाबंदी नहीं होगी
गांव के 20 सदस्य हर वक्त गांव के बस स्टैंड पर मौजूद रहेंगे और पुलिस प्रशासन को गांव में आने से रोकेंगे
गांव में फल और सब्जियों के रेट में कटौती की गई है अब पंचायत द्वारा तय की गई कीमत पर फल और सब्जियां बेचने होंगे।  

Leave a Reply