Saturday, May 8

Author: Shiksha Mishra

Born in Bihar. दिल्ली और NCR को रोज़ क़रीब से देखती हूँ.
गुडगाँव के अस्पतालों में ऑक्सीजन की खस्ता हालत , लोगों से कहा ऑक्सीजन का खुद करे इंतज़ाम
Being in Delhi, COVID19

गुडगाँव के अस्पतालों में ऑक्सीजन की खस्ता हालत , लोगों से कहा ऑक्सीजन का खुद करे इंतज़ाम

लोग खुद करे ऑक्सीजन का इंतेज़ाम शुक्रवार को एक बैठक के दौरान अधिकारियों ने कहा कि कोविड मामलों में वृद्धि के साथ, गुड़गांव में 50 बेड की क्षमता वाले सभी अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करने या पीएसए ऑक्सीजन उत्पादन की व्यवस्था करके कुछ समय के लिए लोगों को खुद ऑक्सीजन आपूर्ति की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। जल्द बनेगा पोर्टल हलाकि बैठक में, यह पता चला कि घर के अलगाव में उन लोगों के लिए ऑक्सीजन सिलेंडरों की खरीद की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए एक पोर्टल जल्द ही बनाया जाएगा, और ऑक्सीजन की आपूर्ति में सुधार के लिए आने वाले हफ्तों में जिले में छह ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित किए जाएंगे। गुड़गांव में कोविड -19 स्थिति पर चर्चा गुड़गांव में कोविड -19 स्थिति पर चर्चा के लिए आयोजित आभासी बैठक के दौरान बोलते हुए, उपायुक्त यश गर्ग ने कहा, “जिले में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ान...
दिल्ली हाई कोर्ट में PIL दर्ज  , कक्षा 12 वी के बच्चों  को बोर्ड एग्जाम देने से पहले मिले वैक्सीन
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली हाई कोर्ट में PIL दर्ज , कक्षा 12 वी के बच्चों को बोर्ड एग्जाम देने से पहले मिले वैक्सीन

बोर्ड एग्जाम से पहले मिले वैक्सीन दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की गयी है जिसमे शुक्रवार को केंद्र और दिल्ली सरकार से यह कहा गया है वह कक्षा 10 और 12 के उन सभी छात्रों का टीकाकरण करें, जो 2020-21 सत्र में बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे। मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति जसमीत सिंह की पीठ ने स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रालयों को नोटिस जारी किया और दिल्ली सरकार ने तीन वकीलों द्वारा याचिका पर अपना पक्ष रखने की मांग की। अदालत की राय ..... अदालत ने यह भी पूछा कि क्या अभी इस्तेमाल हो रहे COVID-19 टीके 18 साल से कम उम्र के लोगों को दिए जा सकते हैं। दिल्ली सरकार के स्थायी वकील संतोष के त्रिपाठी और केंद्र सरकार की स्थायी वकील मोनिका अरोड़ा ने कहा कि कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गई है जबकि 12 वीं कक्षा के छात्रों को स्थगित कर दिया गया है। याचिका करता ने बत...
दिल्ली में राजपथ का एक नज़ारा ,  साँसें थमी पर सेन्ट्रल विस्ता प्रोजेक्ट नहीं थमा !
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली में राजपथ का एक नज़ारा , साँसें थमी पर सेन्ट्रल विस्ता प्रोजेक्ट नहीं थमा !

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण को 'जरूरी सेवाओं'में आता है ? देश कोरोना से बेहाल है , सांसे थम रही है , डॉक्टर्स परेशान है , पर राजधानी राजपथ पर खुदाई का सिलसिला अभी भी चल रहा है। पिछले कई हफ्तों से, राजपथ पर जो इंडिया गेट है उसकी पृष्ठभूमि के रूप में महत्वाकांक्षी सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास परियोजना की तैयारी चल रही है । 20,000 करोड़ की लागत से बन रहे सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण को 'जरूरी सेवाओं' की कैटेगरी में रखा गया है, जिसे लेकर विपक्ष ने विरोध जताया है. सड़क के किनारों पर खोदी गई खाइयों और लाल सड़क अवरोधकों ने प्रतिष्ठित चेन लिंक बाड़ का रास्ता बदल दिया है। हलाकि कोविद महामारी के चलते इसपर रोक लगाने की मांग की गयी है। क्या क्या बदलाव होंगे ? राजपथ पर पुनर्विकास का उद्देश्य क्षेत्र को पैदल यात्री के अनुकूल बनाना और आगंतुकों और पर्यटकों के लिए बेहतर सुविधाएं ...
दिल्ली में  एम्बुलेंस सेवा के लिए यह है फिक्स रेट  , इससे ज्यादा अगर किसी ने वसूला तो होगा लाइसेंस रद्द
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली में एम्बुलेंस सेवा के लिए यह है फिक्स रेट , इससे ज्यादा अगर किसी ने वसूला तो होगा लाइसेंस रद्द

दिल्ली सरकार ने तय की अधिकतम कीमत दिल्ली में कोरोना के संक्रमण के बीच ऐसी कई घटना सामने आयी है जब एक कोविद मरीज़ से कुछ किलो मीटर की दुरी तय करने के लिए कुछ एम्बुलेंस ड्राइवर ने नाजायज रूपए इन मरीजों से वसूले है ऐसे में दिल्ली सरकार ने इस पर टिपणी करते हुए कहा है यह हमारे संज्ञान में आया है कि दिल्ली में निजी एम्बुलेंस सेवाएं नाजायज रूप से वसूल रही हैं। इस प्रथा से बचने के लिए, दिल्ली सरकार ने अधिकतम कीमतें तय की हैं जो निजी एम्बुलेंस सेवाएं ले सकती हैं। आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1390288829504909313?s=20 यह होंगी तय कीमत एम्बुलेंस के 102 नंबर पर कॉल करने के बाद CATS पुरे दिल्ली में इसकी फ्री सेवा पहुँचती है , पर ऐसे कई प्राइवेट एम्बुलेंस ड्राइवर है जो की एक कोविद मरीज को हस्पताल पहुंचने के लिए अधिक क...
UP में 15 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं  न चलाने का आदेश जारी , पर फिर भी कई जगह चल रहे ऑनलाइन क्लासेज
Being in Delhi, COVID19

UP में 15 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं न चलाने का आदेश जारी , पर फिर भी कई जगह चल रहे ऑनलाइन क्लासेज

15 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं रहेगी बंद दिल्ली से सटे राज्य up में वहा के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने साथ - साथ ऑनलाइन क्लासेज़ को 15 मई तक बंद करने का फैसला लिया था , यह फैसला इसीलिए लिया गया था क्युकी कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे है ऐसे में बच्चो पर पढाई का भार न परे व् च्चों पर किसी तरह का अतिरिक्त दबाव न पड़े इस कारन ऑनलाइन क्लासेस को १५ मई तक स्थगित कर दिया गया है। कई जगह ली जा रही है ऑनलाइन क्लासेस UP के कई स्कूलों और कॉलेजों में लगातार ऑनलाइन क्लासेज ली जा रही हैं। एक ओर जहां राजधानी लखनऊ और नोएडा जैसे शहरों में हर दूसरे घर में कोई न कोई कोविड महामारी से पीड़ित है, ऐसे में स्कूल का स्टाफ और बच्चों पर ऑनलाइन कक्षाओं का दबाव प्रताड़ना से कम नहीं है। लखनऊ के साथ साथ कई ऐसे स्कूल है जो की इस वक्त अपना सिलेबस सिलेबस पूरा करवाने के में ऑनलाइन ...
मुसीबत में मिला खाकी वर्दी का साथ , बेटी की शादी स्थगित कर, कोविद से जूझ रहे 1100 लोगों की मदद  !
Being in Delhi, COVID19

मुसीबत में मिला खाकी वर्दी का साथ , बेटी की शादी स्थगित कर, कोविद से जूझ रहे 1100 लोगों की मदद !

मुसीबत में मिला खाकी वर्दी का साथ शायद हमे इस बात का अंदाजा नहीं था की कभी असा दिन भी देखना पड़ेगा जब लाशों का ढेड़ सामने पड़ा होगा और उस चिटा को अग्नि देने भी साथ नहीं दे पाएंगे , ऐसे में एक ऐसा शक्श भी है जो की मानवता में यकीन दिलाता है , दिल्ली पुलिस के एक एएसआई कोरोना से जान गंवाने वालों को न सिर्फ कंधा दे रहे हैं, बल्कि उनके अंतिम संस्कार की सारी जिम्मेदारियां भी निभा रहे हैं। उनका नाम- राकेश कुमार है। 56 साल के एएसआई राकेश कुमार साउथ-ईस्ट दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन थाने में तैनात हैं। घर में पत्नी, बच्चे, पोता, माता-पिता सब हैं, लेकिन कोई उन्हें कोरोना के डर से ये काम करने से मना नहीं करता। एएसआई राकेश कुमार कहते है COVID की दूसरी लहर ने देश को तबाह कर दिया है। अभिभूत स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे और श्मशान की वजह से बढ़ती हताहतों के बीच, दिल्ली पुलिस एएसआई राकेश कुम...
दिल्ली में अब हर रोज मिल सकता है 700 टन ऑक्सीजन , कल पहली बार  दिल्ली को मिली  730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन
Accidents, COVID19, National

दिल्ली में अब हर रोज मिल सकता है 700 टन ऑक्सीजन , कल पहली बार दिल्ली को मिली 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन

दिल्ली को मिली 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन दिल्ली को प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है, कल पहली बार दिल्ली को 730 मीट्रिक टन ऑक्सीजन मिली है... लेकिन 1 दिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन से काम नहीं चलेगा, जब तक कोरोना के मामले कम नहीं हो जाते, मुख्यमंत्री ने बताया की हमें प्रतिदिन 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन चाहिए। गर 700 MT Oxygen रोजाना आ जाती है तो हम 9000-9500 Oxygen Beds तैयार कर सकते है। अगर दिल्ली को समुचित Oxygen मिल गयी तो मैं यकीन दिलाता हूँ दिल्ली में Oxygen की कमी से किसी की मौत नहीं होने देंगे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बताया जब दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी थी तो बहुत से अस्पतालों ने बेड की संख्या कम कर दी थी। सभी अस्पतालों से निवेदन है कि वे अपने बेड की संख्या बढ़ा लें और पहले जितने बेड थे, उतने बेड उपलब्ध कराएं। उम्मीद करते हैं कि अब हमें प्रतिदिन 700 टन ऑक्सीजन मिले...
देश  में ऑक्सीजन की किल्लत , जब ऑक्सीजन भी कोर्ट से मांगना पर जाए , तब देश में सरकार कहाँ ?
Being in Delhi, COVID19

देश में ऑक्सीजन की किल्लत , जब ऑक्सीजन भी कोर्ट से मांगना पर जाए , तब देश में सरकार कहाँ ?

भारत को ऑक्सीजन चाहिए,राजनीती नहीं देश की राजधानी दिल्ली मैं जगह - जगह ऑक्सीजन सिलिंडर की किल्लत बढ़ते जा रही है , केंद्र सरकार और राज्य सरकार एक दूसरे को निशाने में लिए हुए है ,और आम जनता बढ़ते दिन के साथ ऑक्सीजन की किल्लत के कारन हर किसी दिन किसी अपने को खो रहे है , ऐसे में अब बात हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक पहुँच गयी है , क्यूंकि राज्य और केंद्र सरकार की राजनीती के कारण , सिर्फ लोग एक दूसरे को मरते हुए नहीं देख सकते। सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों को केंद्र द्वारा ऑक्सीजन की आपूर्ति से संबंधित मामले की सुनवाई की। इस दौरान अदालत ने कहा कि केंद्र, सुप्रीम कोर्ट को यह बताए कि वह दिल्ली के अस्पतालों को ऑक्सीजन कैसे देगा। सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट किया है कि केंद्र सरकार यह सुनिश्चित करे कि कोरोना की तीसरा लहर की आशंका के बीच दिल्ली में...
देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में 25 पैसे और 30 पैसे प्रति लीटर की  बढ़ोतरी , जाने अपने शहर  का हाल
Being in Delhi, National

देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में 25 पैसे और 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी , जाने अपने शहर का हाल

पेट्रोल और डीजल के दाम में बढ़ोतरी सरकारी तेल कंपनियों की और से लगातार भी पेट्रोल व डीजल की कीमतो में बढ़ोतरी हुई है। पेट्रोल की कीमत में 25 पैसे, तो डीजल की कीमत में 30 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी हुई है। लगातार चौथे दिन बढ़ोतरी देखी गयी है। देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में गुरुवार को फिर से 25 पैसे और 30 पैसे प्रति लीटर की तेजी से बढ़ोतरी हुई है। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में अब पेट्रोल 90.99 रुपये प्रति लीटर और डीजल 81.42 रुपये लीटर पर बेचा जा रहा है। https://twitter.com/IANSKhabar/status/1390197759152508934?s=20 मध्यप्रदेश व राजस्थान में पेट्रोल पर 100 के पार राजस्थान के श्रीगंगानगर में एक लीटर पेट्रोल 101.43 रुपये का मिल रहा है। यहां डीजल के लिए लोगों से 93.54 रुपये वसूले जा रहे हैं। मध्यप्रदेश के अनूपनगर में भी पेट्रोल 100 रुपये के पार हो गया है। यहां एक लीटर प...
Being in Delhi, COVID19, Crime

दिल्ली में एक एम्बुलेंस ड्राइवर गिरफ्तार , कोविद पेशेंट को 5 km ले जाने के लिए, ले रहा था 6000 रूपए

5 km ले जाने के लिए लिये 6000 रूपए दिल्ली में फिर एक ऐसा केस देखने को मिला जहाँ एक बीमार कोविद पेशेंट को एम्बुलेंस में 5km की दुरी पार करवाने के लिए एक एम्बुलेंस उस बीमार व्यक्ति से 6000 रुपए लिए। पर मोके पर ही पीएस भारत नगर के अलर्ट स्टाफ ने एम्बुलेंस चालक को दबोच लिया, जो उस कोविद मरीजों पर अत्याचार कर रहा था। खबर के हिसाब से ड्राइवर का नाम मनमोहन बताया जा रहा है जो की कोविद मरीज को दीप चंद हस्पताल लेकर जा रहा था। https://twitter.com/DCPNWestDelhi/status/1389899083192537093?s=20 पुलिस ने जारी किया हेल्पलाइन नंबर हलाकि दिल्ली पुलिस ने ऐसे फ्रॉड से बचने के लिए एक हेल्पलाइन नंबर जारी किआ है आप किसी भी ऐसे तरह के फ्रॉड के शिकार हुए है चाहे वह एम्बुलेंस ड्राइवर की हो , कोविद दवाइयों , ऑक्सीजन सिलिंडर हॉस्पिटल या बेड से सम्बंधित हो तो तुरंत आप इस दिल्ली पुलिस हेल्पलाइन...