Saturday, May 8

COVID19

दिल्ली के खान मार्केट में चल रहा है ऑक्सीजन रैकेट , पुलिस ने बरामद किए  9 और ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली के खान मार्केट में चल रहा है ऑक्सीजन रैकेट , पुलिस ने बरामद किए 9 और ऑक्सीजन कॉन्सेंट्रेटर

दिल्ली के खान मार्केट में चल रहा बड़ा धंधा दिल्ली में सांसे थमती जा रही है , लोग ऑक्सीजन सिलिंडर के लिए तड़प रहे है व्ही दूसरी तरफ लोगों को इसी ऑक्सीजन की भरी कीमत चुकानी पर रही है , एक जगह ऐसा भी है जहा दिल्ली के खान मार्केट में कोविद मेडिकल सामान की बरी धांधली हो रही है , खान मार्किट इन सब मई से एक है जहाँ , इन मेडिकल उपकरणों को बेचने का बड़ा धंधा चल रहा है , इसके एक दिन बाद दक्षिण दिल्ली की लोधी कॉलोनी के एक रेस्तरां से 419 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स को जब्त किया गया, और कथित रूप से मशीन को बेचने के लिए रैकेट में शामिल होने के आरोप में चार लोगों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने छानबीन कर बताया पुलिस ने कहा कि वे मैट्रिक्स सेल्युलर के मालिक गगन दुग्गल की भूमिका की भी जांच कर रहे हैं। पुलिस सूत्रों ने कहा कि जब यह दुग्गल था जिसने मशीनों का आयात किया था, उसने कथित तौर पर अपने दोस्त कालरा स...
दिल्ली में वैक्सीन की कमी , सिर्फ 5-6 दिन की बची है वैक्सीन ,18 से अधिक उम्र वालों  के लिए 3 करोड़ वैक्सीन की जरूरत
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली में वैक्सीन की कमी , सिर्फ 5-6 दिन की बची है वैक्सीन ,18 से अधिक उम्र वालों के लिए 3 करोड़ वैक्सीन की जरूरत

वैक्सीन की बहुत कमी आज वैक्सीन की बहुत कमी है, अगर हमें पर्याप्त वैक्सीन मिल जाए तो हम तीन महीने में पूरी दिल्ली को वैक्सीनेट करना चाहते हैं। दिल्ली में 18 साल से अधिक उम्र के 1.5 करोड़ लोग हैं तो 3 करोड़ वैक्सीन चाहिए। दिल्ली सरकार को अब तक कुल 40 लाख वैक्सीन मिली है। दिल्ली में प्रतिदिन 1 लाख व्यक्तियों को वैक्सीन लगाई जा रही है और दिल्ली सरकार के पास अब अगले 5-6 दिन की वैक्सीन ही बची है। दिल्ली सरकार के मुताबिक दिल्ली में 18 वर्ष से ऊपर के सभी लोगों का वैक्सीनेशन करने के लिए अभी भी 2.60 करोड़ वैक्सीन की आवश्यकता है। दिल्ली के 100 स्कूलों में वैक्सीन की व्यवस्था हमने लगभग 100 स्कूलों में टीकाकरण की व्यवस्था की है, आने वाले समय में ये बढ़ाकर 250-300 स्कूलों में कर देंगे। आज दिल्ली में रोज क़रीब एक लाख वैक्सीन लग रही हैं, 50,000 वैक्सीन 45 साल से कम उम्र के लोगों और 50,000 वैक्सीन...
हॉस्पिटल द्वारा इमरजेंसी कॉल  को सँभालने के लिए , दिल्ली में जगह-जगह बनेगा ‘ऑक्सीजन रिज़र्व ‘
Being in Delhi, COVID19

हॉस्पिटल द्वारा इमरजेंसी कॉल को सँभालने के लिए , दिल्ली में जगह-जगह बनेगा ‘ऑक्सीजन रिज़र्व ‘

दिल्ली में जगह-जगह बनेगा 'ऑक्सीजन रिज़र्व AAP के वरिष्ठ नेता राघव चड्ढा ने शुक्रवार को कहा कि शहर में दैनिक ऑक्सीजन की आपूर्ति के साथ, दिल्ली सरकार ने अस्पतालों में एसओएस कॉल का जवाब देने के लिए राजधानी भर में कई स्थानों पर ऑक्सीजन का भंडार बनाने की योजना बनाई है। दिल्ली में गुरुवार को 577 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त हुआ - 153 मीट्रिक टन पिछले दिन की आपूर्ति से कम आयी है । राघव चड्डा ने बताया ..... “हम दिल्ली में विभिन्न स्थानों पर स्टॉक किए गए एसओएस भंडार का निर्माण कर रहे हैं जहां से आपातकालीन स्थिति में अस्पतालों में आपूर्ति की जाएगी, इससे पहले तक , यदि एक 300-बिस्तर वाला अस्पताल जिसे एक नामित कंपनी के टैंकर के माध्यम से ऑक्सीजन पहुंचाया जाना था, पर कुछ अप्रत्याशित परिस्थितियों के कारण इसे प्राप्त करने में विफल रहता है, इस पर राघव चड्डा ने बताय की हॉमररी टीम दिन-प्रतिदिन निगरा...
आज से  मोबाइल पर आएगा टीकाकरण के लिए OTP, वेरीफाई करने के  बाद ही लगाया जाएगा टिका
Being in Delhi, COVID19, National

आज से मोबाइल पर आएगा टीकाकरण के लिए OTP, वेरीफाई करने के बाद ही लगाया जाएगा टिका

कोविन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन के बाद दिक्कत ऐसे कई लोग है जिन्होंने कोरोना के खिलाफ टिका लगवाने के लिए अपने आप को केंद्र द्वारा बनाई गयी ऐप पर पहले से ही खुद को रजिस्टर कर लिया था , पर रजिस्ट्रेशन के बावजूद उन्हें टिका लगवाने का अब तक नहीं मिल पाया है , ऐसे में कई लोग है जो की इसकी वजह से परेशान हो गए थे। ऐसा भी हुआ की उन्होंने टीका नहीं लगवाया बावजूद इसके टीका लगने की सूचना उनको एसएमएस के जरिए मिल गई। अब OTP के जरिए लगाया जायेगा टिका अब इन सब से बचने और पर टिका लग जाये इसीलिए कोविन पोर्टल पर नया फीचर लाया गया है , कोविन पोर्टल पर 8 मई यानी आज से चार अंकों वाले ओटीपी के नए फीचर को जोड़ा गया है। इस कोड के जरिए वेरिफाई किया जाएगा उसके बाद ही कोरोना का टीका लगेगा। ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने पर 4 अंकों का सिक्युरिटी कोड मोबाइल पर आएगा। 4 अंकों का कोड पूछा जाएगा ऑनलाइ...
दिल्ली बीजेपी ने लांच किया मोबाइल ऑक्सीजन वैन, अलग-अलग इलाकों में जाकर लोगों की मदद करेगी गाड़ी
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली बीजेपी ने लांच किया मोबाइल ऑक्सीजन वैन, अलग-अलग इलाकों में जाकर लोगों की मदद करेगी गाड़ी

मोबाइल वैन हुई लॉन्च दिल्ली में ऑक्सीजन की कमी अब जगजाहिर हो चुकी है। लोग ऑक्सीजन सिलेंडरों के लिए सरकार से मांग कर रहे हैं। वहीं जमाखोरों द्वारा लोगों को महंगे दामों पर ऑक्सीजन सिलेंडर की खबरें सामने आ रही हैं। इसी बीच दिल्ली बीजेपी द्वारा आज मोबाइल ऑक्सीजन वैन लॉन्च किया गया कि मोबाइल व ऑक्सीजन वैन अलग अलग इलाकों में जाकर लोगों की मदद करेगी। मरीजों को लिटा कर दिया जाएगा ऑक्सीजन इस वैन के सिलसिले में दिल्ली बीजेपी के सदस्यों द्वारा जानकारी दी गई है । यह वैन अलग अलग इलाकों में जाकर लोगों की मदद करेगी इस वैन में अस्पताल के बर्ड जैसा सेटअप किया गया है ताकि जरूरतमंदों को लिटाकर उन्हें ऑक्सीजन सुविधा दी जा सके। सरकार पर उठते हैं कई सवाल एक तरफ जहां दिल्ली के अस्पताल लगातार ऑक्सीजन सिलेंडरों की मांग कर रहे हैं। वहीं इस द्वारा पॉलिटिकल स्टंट के रूप में लोगों को ऑक्सीजन सुव...
गुडगाँव के अस्पतालों में ऑक्सीजन की खस्ता हालत , लोगों से कहा ऑक्सीजन का खुद करे इंतज़ाम
Being in Delhi, COVID19

गुडगाँव के अस्पतालों में ऑक्सीजन की खस्ता हालत , लोगों से कहा ऑक्सीजन का खुद करे इंतज़ाम

लोग खुद करे ऑक्सीजन का इंतेज़ाम शुक्रवार को एक बैठक के दौरान अधिकारियों ने कहा कि कोविड मामलों में वृद्धि के साथ, गुड़गांव में 50 बेड की क्षमता वाले सभी अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति करने या पीएसए ऑक्सीजन उत्पादन की व्यवस्था करके कुछ समय के लिए लोगों को खुद ऑक्सीजन आपूर्ति की व्यवस्था करने का निर्देश दिया गया है। जल्द बनेगा पोर्टल हलाकि बैठक में, यह पता चला कि घर के अलगाव में उन लोगों के लिए ऑक्सीजन सिलेंडरों की खरीद की प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए एक पोर्टल जल्द ही बनाया जाएगा, और ऑक्सीजन की आपूर्ति में सुधार के लिए आने वाले हफ्तों में जिले में छह ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित किए जाएंगे। गुड़गांव में कोविड -19 स्थिति पर चर्चा गुड़गांव में कोविड -19 स्थिति पर चर्चा के लिए आयोजित आभासी बैठक के दौरान बोलते हुए, उपायुक्त यश गर्ग ने कहा, “जिले में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ान...
दिल्ली हाई कोर्ट में PIL दर्ज  , कक्षा 12 वी के बच्चों  को बोर्ड एग्जाम देने से पहले मिले वैक्सीन
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली हाई कोर्ट में PIL दर्ज , कक्षा 12 वी के बच्चों को बोर्ड एग्जाम देने से पहले मिले वैक्सीन

बोर्ड एग्जाम से पहले मिले वैक्सीन दिल्ली उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका दायर की गयी है जिसमे शुक्रवार को केंद्र और दिल्ली सरकार से यह कहा गया है वह कक्षा 10 और 12 के उन सभी छात्रों का टीकाकरण करें, जो 2020-21 सत्र में बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे। मुख्य न्यायाधीश डी एन पटेल और न्यायमूर्ति जसमीत सिंह की पीठ ने स्वास्थ्य और शिक्षा मंत्रालयों को नोटिस जारी किया और दिल्ली सरकार ने तीन वकीलों द्वारा याचिका पर अपना पक्ष रखने की मांग की। अदालत की राय ..... अदालत ने यह भी पूछा कि क्या अभी इस्तेमाल हो रहे COVID-19 टीके 18 साल से कम उम्र के लोगों को दिए जा सकते हैं। दिल्ली सरकार के स्थायी वकील संतोष के त्रिपाठी और केंद्र सरकार की स्थायी वकील मोनिका अरोड़ा ने कहा कि कक्षा 10 की बोर्ड परीक्षा रद्द कर दी गई है जबकि 12 वीं कक्षा के छात्रों को स्थगित कर दिया गया है। याचिका करता ने बत...
दिल्ली में राजपथ का एक नज़ारा ,  साँसें थमी पर सेन्ट्रल विस्ता प्रोजेक्ट नहीं थमा !
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली में राजपथ का एक नज़ारा , साँसें थमी पर सेन्ट्रल विस्ता प्रोजेक्ट नहीं थमा !

सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण को 'जरूरी सेवाओं'में आता है ? देश कोरोना से बेहाल है , सांसे थम रही है , डॉक्टर्स परेशान है , पर राजधानी राजपथ पर खुदाई का सिलसिला अभी भी चल रहा है। पिछले कई हफ्तों से, राजपथ पर जो इंडिया गेट है उसकी पृष्ठभूमि के रूप में महत्वाकांक्षी सेंट्रल विस्टा पुनर्विकास परियोजना की तैयारी चल रही है । 20,000 करोड़ की लागत से बन रहे सेंट्रल विस्टा प्रोजेक्ट के निर्माण को 'जरूरी सेवाओं' की कैटेगरी में रखा गया है, जिसे लेकर विपक्ष ने विरोध जताया है. सड़क के किनारों पर खोदी गई खाइयों और लाल सड़क अवरोधकों ने प्रतिष्ठित चेन लिंक बाड़ का रास्ता बदल दिया है। हलाकि कोविद महामारी के चलते इसपर रोक लगाने की मांग की गयी है। क्या क्या बदलाव होंगे ? राजपथ पर पुनर्विकास का उद्देश्य क्षेत्र को पैदल यात्री के अनुकूल बनाना और आगंतुकों और पर्यटकों के लिए बेहतर सुविध...
दिल्ली में  एम्बुलेंस सेवा के लिए यह है फिक्स रेट  , इससे ज्यादा अगर किसी ने वसूला तो होगा लाइसेंस रद्द
Being in Delhi, COVID19

दिल्ली में एम्बुलेंस सेवा के लिए यह है फिक्स रेट , इससे ज्यादा अगर किसी ने वसूला तो होगा लाइसेंस रद्द

दिल्ली सरकार ने तय की अधिकतम कीमत दिल्ली में कोरोना के संक्रमण के बीच ऐसी कई घटना सामने आयी है जब एक कोविद मरीज़ से कुछ किलो मीटर की दुरी तय करने के लिए कुछ एम्बुलेंस ड्राइवर ने नाजायज रूपए इन मरीजों से वसूले है ऐसे में दिल्ली सरकार ने इस पर टिपणी करते हुए कहा है यह हमारे संज्ञान में आया है कि दिल्ली में निजी एम्बुलेंस सेवाएं नाजायज रूप से वसूल रही हैं। इस प्रथा से बचने के लिए, दिल्ली सरकार ने अधिकतम कीमतें तय की हैं जो निजी एम्बुलेंस सेवाएं ले सकती हैं। आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। https://twitter.com/ArvindKejriwal/status/1390288829504909313?s=20 यह होंगी तय कीमत एम्बुलेंस के 102 नंबर पर कॉल करने के बाद CATS पुरे दिल्ली में इसकी फ्री सेवा पहुँचती है , पर ऐसे कई प्राइवेट एम्बुलेंस ड्राइवर है जो की एक कोविद मरीज को हस्पताल पहुंचने के लिए अधिक क...
UP में 15 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं  न चलाने का आदेश जारी , पर फिर भी कई जगह चल रहे ऑनलाइन क्लासेज
Being in Delhi, COVID19

UP में 15 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं न चलाने का आदेश जारी , पर फिर भी कई जगह चल रहे ऑनलाइन क्लासेज

15 मई तक ऑनलाइन कक्षाएं रहेगी बंद दिल्ली से सटे राज्य up में वहा के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने साथ - साथ ऑनलाइन क्लासेज़ को 15 मई तक बंद करने का फैसला लिया था , यह फैसला इसीलिए लिया गया था क्युकी कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे है ऐसे में बच्चो पर पढाई का भार न परे व् च्चों पर किसी तरह का अतिरिक्त दबाव न पड़े इस कारन ऑनलाइन क्लासेस को १५ मई तक स्थगित कर दिया गया है। कई जगह ली जा रही है ऑनलाइन क्लासेस UP के कई स्कूलों और कॉलेजों में लगातार ऑनलाइन क्लासेज ली जा रही हैं। एक ओर जहां राजधानी लखनऊ और नोएडा जैसे शहरों में हर दूसरे घर में कोई न कोई कोविड महामारी से पीड़ित है, ऐसे में स्कूल का स्टाफ और बच्चों पर ऑनलाइन कक्षाओं का दबाव प्रताड़ना से कम नहीं है। लखनऊ के साथ साथ कई ऐसे स्कूल है जो की इस वक्त अपना सिलेबस सिलेबस पूरा करवाने के में ऑनलाइन ...