Thursday, August 5

Opinion

NCR में 100% महँगा होरहा हैं सर्कल रेट, घर, दुकान, ज़मीन ख़रीदने के लिए दोगुना देना होगा पैसा, इलाक़ों की लिस्ट
Being in Delhi, Business, Delhi NCR, Opinion, Reviews, UP

NCR में 100% महँगा होरहा हैं सर्कल रेट, घर, दुकान, ज़मीन ख़रीदने के लिए दोगुना देना होगा पैसा, इलाक़ों की लिस्ट

दिल्ली से सटे नोएडा और ग्रेटर नोएडा में आने वाले समय में आशियाना बनाना महंगा हो जाएगा, क्योंकि यहां पर प्रॉपर्टी 100 फीसद तक महंगी हो जाएगी। हालांकि, 100 फीसद प्रॉपर्टी के दाम में इजाफा कुछ चुनिंदा इलाकों/सेक्टरों में ही होगा। दरअसल, कई सेक्टरों में सर्किल रेट की वर्तमान दर के हिसाब से 60 फीसद तक बढोतरी की तैयारी है। इसके बाद जाहिर है कि लोगों के लिए नोएडा और ग्रेटर नोएडा में आशियाना बनाना महंगा हो जाएगा। मेट्रो रूट के आसपास महंगी होगी प्रॉपर्टी मिली जानकारी के मुताबकि, नोएडा और ग्रेटर नोएडा के बीच चलने वाले एक्वा लाइन मेट्रो रूट और एक्सप्रेस-वे किनारे वाले सेक्टरों में रजिस्ट्री के लिए लोगों को अधिक स्टांप शुल्क चुकाना होगा। कुलमिलाकर मेट्रो स्टेशनों और मेट्रो लाइन के पास फ्लैट और जमीन दोनों ही महंगी होने जा रही है।   बताया जा रहा है कि नोएडा सेक्टर-15-ए, 14-ए और सेक्टर-4...
Modi सरकार ने संसद में बोला सफेद झूठ!  “पूरे देश में Oxygen की कमी से कोई मौत नहीं हुई” -मनीष सिसोदिया
Being in Delhi, Delhi NCR, DelhiSpots, Opinion, Politics

Modi सरकार ने संसद में बोला सफेद झूठ! “पूरे देश में Oxygen की कमी से कोई मौत नहीं हुई” -मनीष सिसोदिया

देश में Oxygen की कमी को लेकर बवाल केंद्र सरकार ने बहुत ही बेशर्मी से संसद में सफेद झूठ बोला कि देश में ऑक्सीजन की कमी से कोई भी मौत नहीं हुई। 15 अप्रैल से लेकर 10 मई के बीच में केंद्र का ऑक्सीजन का मिसमैनेजमेंट साफ देखा गया। ऑक्सीजन की कमी से कई मौतें हुई थीं https://twitter.com/AamAadmiParty/status/1417756311001866242?s=20 मनीष सीसोधिया ने केंद्र पर जमकर साधा निशाना राज्य सरकार को कमिटी बनाने दो, ये स्वतंत्र जांच करके बताएगी कि ऑक्सिजन से मौत हुई या नहीं। आंकड़े सामने नहीं आने देते, फिर कहते हैं कि दिल्ली सरकार आंकड़े नहीं देती। केंद्र सरकार आंकड़े नहीं जुटाने देना चाहती हम कोर्ट में यह भी कह रहे हैं कि केंद्र सरकार कमिटी नहीं बनाने दे रही। कोर्ट के कहने पर ही कमिटी बन रही थी, जिसे केंद्र सरकार ने रुकवाया। केंद्र सरकार क्यों ऑक्सिजन की कमी से हुई मौत की जांच नहीं होने देना ...
दिल्ली में जल संकट , भाजपा ने दी धमकी, 48 घंटे में पानी नहीं मिला तो केजरीवाल के घर का पानी कनेक्शन काटेंगे
Being in Delhi, Delhi NCR, DelhiSpots, Opinion, Politics

दिल्ली में जल संकट , भाजपा ने दी धमकी, 48 घंटे में पानी नहीं मिला तो केजरीवाल के घर का पानी कनेक्शन काटेंगे

पानी को लेकर बेजेपी और आप आमने सामने आम आदमी पार्टी ने पानी की किल्लत के लिए हरियाणा की भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराया है तो वहीं प्रदेश भाजपा ने इसके लिए दिल्ली सरकार को कटघरे में खड़ा किया है। ट्रैकर और पानी माफियाओं को बढ़ावा देकर कृत्रिम जलसंकट का आरोप सरकार पर मढ़ा है। दोनों राजनीतिक पार्टी के कार्यकर्ता विरोधी पक्ष के नेताओं के घर का पानी कनेक्शन काट कर विरोध दर्ज करा रहे है। प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री और सत्येन्द्र जैन के इस्तीफे की मांग प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री और सत्येन्द्र जैन के इस्तीफे की मांग करते हुए सरकार पर पानी बेचकर कमाई करने का आरोप लगाया। कार्यकर्ताओं ने जब सत्येंद्र जैन के घर के पानी के पाइप को काटने का प्रयास किया तो पुलिस ने प्रदर्शनकारियों पर हल्का बल प्रयोग किया। नहीं मिलेगा पानी तो काट देंगे केजरिवाल के घर का पानी का कनेक्शन स मौके पर आ...
निर्भया फंड के तहत रेलवे स्टेशनों पर कैमरे लगाने की योजना,  4 वर्षों में कोई प्रगति नहीं हुई
Being in Delhi, Delhi NCR, Opinion

निर्भया फंड के तहत रेलवे स्टेशनों पर कैमरे लगाने की योजना, 4 वर्षों में कोई प्रगति नहीं हुई

निर्भया फंड के तहत रेलवे स्टेशनों पर लगने थे 983 कैमरे निर्भया फंड के तहत देश के 983 रेलवे स्टेशनों पर निगरानी के लिए कैमरे लगाने का निर्णय लेने के चार साल बाद भी , परियोजना को कथित तौर पर सफलता नहीं मिली है। दिसंबर 2012 में दिल्ली में एक युवती के नृशंस गैंगरेप और हत्या के बाद केंद्र सरकार द्वारा निर्भया फंड की स्थापना की गई थी। स्टेशनों पर कैमरा लगाना उन कई परियोजनाओं में से एक था, जो फंड के तहत महिलाओं की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए बनाई गई थीं। 4 वर्षों में कोई प्रगति नहीं हुई हालांकि, द हिंदू के अनुसार, न केवल यह परियोजना शुरू करने में विफल रही है, बल्कि केंद्रीय सतर्कता आयोग ने निविदा प्रक्रिया के दौरान गंभीर अनियमितताओं को उठाया है। इसने रेल मंत्रालय को अपने महाप्रबंधकों से अपने संबंधित क्षेत्रों में रेलवे स्टेशनों पर वीडियो निगरानी प्रणाली (वीएसएस) स्थापित करने के लिए कह...
दिल्ली के रहने वाले अरविन्द , महामारी के वक्त अपने ऑफिस को बनाया कोविद सेंटर, एसे की लोगों की मदद
Being in Delhi, Business, COVID19, Delhi NCR, Opinion

दिल्ली के रहने वाले अरविन्द , महामारी के वक्त अपने ऑफिस को बनाया कोविद सेंटर, एसे की लोगों की मदद

अपने ही ऑफिस को बना डाला कोविद सेंटर जब भारत में COVID-19 महामारी की विनाशकारी दूसरी लहर आई, तो लोग अस्पताल के बिस्तर, ऑक्सीजन और जीवन रक्षक दवाओं के लिए दर-दर भटक रहे थे। इस संकट की घड़ी में कई लोगों की मदद के लिए दिल्ली के बिजनेसमैन अरविंद अरोड़ा आगे आए। एक सीसीटीवी कंपनी के मालिक, श्री अरोड़ा ने अपने कार्यालय को एक कोविड देखभाल कॉल सेंटर में बदलने का फैसला किया, ताकि अधिक से अधिक लोगों की मदद की जा सके, विशेष रूप से वे जो दूर के गांवों से उनके पास पहुंचे, जहां मदद आसानी से उपलब्ध नहीं थी। यह सारी सुविधाये करवाते थे अवगत ऑक्सीमीटर, दवाएं, छोटे ऑक्सीजन सिलेंडर, थर्मामीटर और किट के रूप में सहायता प्रदान की गई। उनके कर्मचारी इस उद्देश्य के लिए स्थापित हेल्पलाइन पर कॉल प्राप्त करते थे और फिर चिकित्सा देखभाल राहत सामग्री भारत के विभिन्न गांवों में भेजी जाती थी। उनकी टीम को हर रोज स...
21 जून के बाद फ्री  वैक्सीन मिलेगी , पर  कहां से आएगी ये बहुत बड़ा सवाल है, वैक्सीन की भारी कमी है -अरविन्द  केजरीवाल
Being in Delhi, COVID19, Delhi NCR, Developments, Hariyana, National, Opinion, Politics, UP

21 जून के बाद फ्री वैक्सीन मिलेगी , पर कहां से आएगी ये बहुत बड़ा सवाल है, वैक्सीन की भारी कमी है -अरविन्द केजरीवाल

वैक्सीन की कमी फिर कहा से आएगी वैक्सीन दिल्ली के मुख्यामंत्री अरविन्द केजरीवाल ने केंद्र पर निशाना साधते हुए कहा केंद्र सरकार ने कहा है कि 21 जून के बाद वो पूरे देश में वैक्सीन फ्री सप्लाई करेगी, केंद्र सरकार ने ये सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद और दबाव में किया है लेकिन देर आए, दुरुस्त आए। लेकिन 21 जून के बाद भी वैक्सीन कहां से आएगी ये बहुत बड़ा सवाल है, वैक्सीन की भारी कमी है। https://twitter.com/AHindinews/status/1402870314229325828?s=20 सीएम केजरीवाल ने ऑक्सीजन स्टोरेज सेंटर का दौरा किया भविष्य की तैयारियों को लेकर आज सिरसपुर स्थित ऑक्सीजन स्टोरेज सेंटर का दौरा किया। यहां 57 मीट्रिक टन ऑक्सीजन भंडारण क्षमता का क्रायोजेनिक टैंक लगाया जा रहा है, साथ ही यहां 12.5 टन प्रतिदिन की उत्पादन क्षमता वाला oxygen generation plant भी बना रहे हैं। दिल्ली की तैयारियां जारी है। https:/...
महामारी में अनाथ हुए बच्चों को तुरंत खाना, दवाई और कपड़े दिए जाएं – सुप्रीम कोर्ट
Being in Delhi, COVID19, Developments, Hariyana, National, Opinion, UP

महामारी में अनाथ हुए बच्चों को तुरंत खाना, दवाई और कपड़े दिए जाएं – सुप्रीम कोर्ट

महामारी में अनाथ हुए बच्चों के लिए निकले आदेश  सुप्रीम कोर्ट ने अनाथ हुए बच्चों को तुरंत खाना, दवाई और कपड़े दिए जाएं, जिन बच्चों के गार्जियन उन्हें रखने में सक्षम नहीं हैं उन बच्चों को अभी सीडब्ल्यूसी को सौंपा जाए, एनसीपीआर की रिपोर्ट के मुताबिक देश भर में 30 हजार बच्चों के पैरेंट्स कोविड से मरे हैं, सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लगातार ऐसे बच्चों की पहचान सुनिश्चित कर वेबसाइट अपडेट हो। अनाथ हुए बच्चों की पढ़ाई जारी रहे- SC  कोविड के कारण अपने पैरेंट्स को गंवा चुके बच्चों के लिए सुप्रीम कोर्ट का बड़ा आदेश, तमाम अनाथ हुए बच्चों की पढ़ाई जारी रहे इसके लिए राज्य सरकार प्रावधान सुनिश्चित करे ताकि सरकारी और प्राइवेट स्कूल में पढ़ाई जारी रह सके।...
नर्सिंग स्‍टाफ के मलयालम भाषा में बात करने पर बैन , कई लोगों ने की आलोचना , बवाल के बाद सर्कुलर वापस
Being in Delhi, Delhi NCR, National, Opinion, Politics

नर्सिंग स्‍टाफ के मलयालम भाषा में बात करने पर बैन , कई लोगों ने की आलोचना , बवाल के बाद सर्कुलर वापस

मलयालम में बोलने पर बवाल देश की राजधानी दिल्ली के एक सरकारी अस्पताल में नर्सिंग स्‍टाफ के मलयालम में बात करने पर रोक लगा दी गयी थी । गोविंद बल्लभ पंत इंस्टिट्यूट ऑफ पोस्टग्रेजुएट मेडिकल एजुकेशन एंड रिसर्च ने शनिवार को एक सर्कुलर जारी किया। जिस कारन अस्‍पताल प्रशासन की कड़ी आलोचना हो रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने भी ट्वीट क‍िया। बाद में अस्‍पताल प्रशासन ने सर्कुलर वापस ले लिया। उन्‍होंने कहा कि बिना उनकी जानकारी से यह सर्कुलर जारी कर दिया गया था। https://twitter.com/RahulGandhi/status/1401373986576027652? सर्कुलर में यह था आदेश सर्कुलर में अस्‍पताल ने कहा, 'संवाद के लिए केवल हिंदी और अंग्रेजी का उपयोग करें या ‘कड़ी कार्रवाई’ का सामना करने के लिए तैयार रहें।' अस्‍पताल प्रशासन ने वजह बताई है कि 'अधिकतर मरीज और सहकर्मी इस भाषा को नहीं जानते हैं।'...
हरियाणा : बीकेयू नेता राकेश टिकैत सहित करोड़ों किसानों  टोहाना पीएस के बाहर मौजूद ,  विरोध प्रदर्शन जारी
Being in Delhi, COVID19, Delhi NCR, Hariyana, Opinion, Politics

हरियाणा : बीकेयू नेता राकेश टिकैत सहित करोड़ों किसानों टोहाना पीएस के बाहर मौजूद , विरोध प्रदर्शन जारी

देवेंद्र सिंह बबली की विवादास्पद टिप्पणी में पहुंचे किसान बीकेयू नेता राकेश टिकैत सहित करोड़ों किसानों टोहाना पीएस के बाहर अभी भी मौजूद है , टोहाना में विधायक देवेंद्र बबली और किसानों के बीच का विवाद खत्म नहीं हो रहा। इस विवाद में किसानों की गिरफ्तारी के लिए दबिश से नाराजगी में संयुक्त किसान मोर्चा के नेता शनिवार को टोहाना गिरफ्तारियां देने पहुंचे। इनमें संयुक्त किसान मोर्चा के नेता राकेश टिकैत, गुरनाम सिंह व योगेंद्र यादव शामिल है और अब तक इनका विरोध जारी है। https://twitter.com/ANI/status/1401382876621393923?s=20 किसान नेता राकेश टिकैत सहित किसानों का टोहाना पुलिस स्टेशन के बाहर विरोध प्रदर्शन जारी है। वे कल रात यहां विधायक देवेंद्र सिंह बबली की विवादास्पद टिप्पणी के विरोध में और गिरफ्तार किए गए किसानों के रिहाई की मांग को लेकर इकट्ठे हुए थे। पुलिस प्रशाशन भी अलर्ट व...
दिल्ली उच्च न्यायालय ने 5जी याचिका खारिज की, जूही चावला और दो अन्य लोगों पर लगाया ₹20 लाख का जुर्माना
Being in Delhi, Delhi NCR, National, Opinion

दिल्ली उच्च न्यायालय ने 5जी याचिका खारिज की, जूही चावला और दो अन्य लोगों पर लगाया ₹20 लाख का जुर्माना

जूही चावला पर ₹20 लाख का जुर्माना पिछली 2 जून की सुनवाई में बार-बार व्यवधान से परेशान उच्च न्यायालय ने भी सोशल मीडिया पर अदालत की डिजिटल कार्यवाही के लिए लिंक पोस्ट करने के लिए चावला की खिंचाई की और कहा कि वादी ने "कानून की प्रक्रिया का दुरुपयोग और दुरुपयोग किया"। दिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को अभिनेता जूही चावला और दो अन्य शिकायतकर्ताओं को देश में 5G वायरलेस नेटवर्क की स्थापना के खिलाफ याचिका दायर करने के लिए भारी फटकार लगाई, और "दोषपूर्ण" सूट के लिए ₹20 लाख का जुर्माना जारी किया जिसका उद्देश्य "लाभ" करना था। प्रचार"। दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा "… जूही चावला ने प्रचार हासिल करने के लिए मुकदमा दायर किया है जो इस तथ्य से स्पष्ट है कि वादी नंबर 1 (चावला) ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर इस अदालत के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग लिंक को प्रसारित किया, जिसके परिणामस्वरूप अदालती कार्यवाही में...