Thursday, December 2

Opinion

दिल्ली में हैं तो सावधान! पिछले साले के आधा भी फटा पटाखा तो घुट जाएगा लाखों का दम, AQI होगा 500 से पार
Being in Delhi, Delhi NCR, DelhiSpots, Opinion

दिल्ली में हैं तो सावधान! पिछले साले के आधा भी फटा पटाखा तो घुट जाएगा लाखों का दम, AQI होगा 500 से पार

देश की राजधानी दिल्ली में सर्दी का मौसम आने के साथ ही न सिर्फ कोहरा बढ़ने लगा है बल्कि पिछले कई दिनों से बढ़ता वायु प्रदूषण लोगों को डरा रहा है. यही नहीं, वायु प्रदूषण के कारण सांस तक लेना मुश्किल हो रहा है. वहीं, दिवाली की रात दिल्ली-एनसीआर की वायु गुणवत्ता (Delhi Air Quality) और गंभीर हो सकती है. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की वायु मानक संस्था सफर के मुताबिक, अगले 24 घंटे के भीतर पराली जलने, पटाखा चलने और हवा की दिशा का रुख बदलने समेत अन्य मौसमी गतिविधियों के कारण प्रदूषण का स्तर बढ़ेगा. जबकि दिल्‍ली में एक्‍यूआई 500 से ज्‍यादा दर्ज हो सकता है. इसके अलावा सफर ने अनुमान जताया है कि आतिशबाजी नहीं होने के बावजूद हवा बहुत खराब श्रेणी में पहुंचेगी. वहीं, पिछले वर्षों के मुकाबले यदि सिर्फ 50 फीसदी ही पटाखों का इस्तेमाल होता है तो भी हवा गंभीर श्रेणी में पहुंच जाएगी. इसके अलावा सफर ने बताया क...
नया नियम, अब BIKE पर केवल हेमलेट नही, क्रैश सूट भी पहन कर चलना होगा, 40 से ज़्यादा के स्पीड पर नही चला सकते
Developments, National, Opinion, Reviews, Travel

नया नियम, अब BIKE पर केवल हेमलेट नही, क्रैश सूट भी पहन कर चलना होगा, 40 से ज़्यादा के स्पीड पर नही चला सकते

बच्चों की सुरक्षा के लिए सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रलय ने अहम पहल की है। मंत्रलय ने प्रस्ताव किया है कि अगर किसी बाइक यानी मोटरसाइकिल पर पीछे चार साल से कम उम्र का बच्चा बैठा हो तो उसकी स्पीड 40 किमी प्रति घंटे से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।   मंत्रलय ने इसको लेकर एक मसौदा नियम जारी किया है। इसके मुताबिक बाइक चलाने वालों को यह सुनिश्चित करना होगा कि नौ माह से चार साल की उम्र तक का बच्चा अगर पीछे बैठा है तो वह क्रैश हेलमेट पहना हो। चार साल से कम उम्र के बच्चे को बाइक के चालक से जोड़ने के लिए सेफ्टी हार्नेस का इस्तेमाल करना होगा।   मसौदा नियम के मुताबिक सेफ्टी हार्नेस समेत सुरक्षा संबंधी सभी उपकरण हल्के और टिकाऊ होने चाहिएं। सेफ्टी हार्नेस को इस तरह से डिजाइन किया जाएगा कि वो 30 किलो तक का भार वहन कर सके। मंत्रलय ने मसौदा नियमों पर सभी हितधारकों से आपत्तियां भी आमंत्रित ...
दिल्ली में पेट्रोल फिर से होगा 60 रुपए लीटर, GST में लाए दिल्ली तो पूरे देश के अन्य राज्य भी ले सकेंगे फ़ैसला
Being in Delhi, Opinion

दिल्ली में पेट्रोल फिर से होगा 60 रुपए लीटर, GST में लाए दिल्ली तो पूरे देश के अन्य राज्य भी ले सकेंगे फ़ैसला

राष्ट्रीय राजधानी के साथ देश में पेट्रोल व डीजल के दाम में लगातार बढ़ोत्तरी के बीच ट्रांसपोर्ट संगठनों ने केंद्र से गंभीर पहल की मांग की है। उनके मुताबिक वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के तहत लाकर पेट्रो पदार्थों के दाम घटाने की दिशा में राज्य सरकारों की चिंताओं को दूर कर उन्हें विश्वास में लाते हुए केंद्र को ठोस पहल करनी चाहिए। इस पर केंद्र व राज्यों का एक-दूसरे के पाले में गेंद डालने की कोशिश सही नहीं है, क्योंकि इस बढ़ोत्तरी से आम लाेगों की जेब के साथ देश की अर्थव्यवस्था पर बुरा असर पड़ रहा है। हाल ही में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने सफाई दी है कि केंद्र पेट्रो पदार्थों को जीएसटी के दायरे में लाकर उपभोक्ताओं काे राहत देना चाहती है, पर राज्य सरकारें ऐसा नहीं चाह रही है। दिल्ली में पेट्रोल 105 के पार गया मंगलवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 105.84 रुपये प्रति लीटर तो डीजल 94.58 रुपये...
दिल्ली का लड़का चला रहा था क्रूज़ पार्टी, सैकड़ों थे मौक़े पर, फिर केवल Aryan Khan और 8 ही गिरफ़्तार क्यू?
National, Opinion, Reviews

दिल्ली का लड़का चला रहा था क्रूज़ पार्टी, सैकड़ों थे मौक़े पर, फिर केवल Aryan Khan और 8 ही गिरफ़्तार क्यू?

मुंबई के चर्चित क्रूज़  पार्टी जिसका नाम Namascray रखा गया था और इसमें ही नारकोटिक्स विभाग की उपस्थिति हो गई और शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान के साथ साथ आठ अन्य लोगों को डिटेन किया गया. यह पार्टी दिल्ली के एक इवेंट एजेंसी के द्वारा संचालित किया जा रहा था जिसमें महज कुछ बड़े स्टार के बच्चे ही नहीं बल्कि सैकड़ों की संख्या में अन्य लोग भी पार्टी में शामिल थे और इस पार्टी का लुफ्त ले रहे थे. https://www.instagram.com/p/CUkw1TllGF-/?utm_source=ig_embed&utm_campaign=embed_video_watch_again उस मौके की एक वीडियो बाहर आ गई है जिसमें ताप या देखा जा सकता है कि पार्टी केबल कुछ लोगों को लेकर नहीं चल रही थी बल्कि यहां पर सैकड़ों की संख्या में भीड़ थी. हालांकि एक पक्ष का यह कहना है कि एक पार्टी में गिरफ्तार किए गए शाहरुख खान के बेटे और अन्य लोगों को जबरदस्ती टारगेट किया गया है. सोशल मीडिया में लगा...
शर्म कीजिए, माँ कैन्सर से अस्पताल में हैं और आप उसकी 12 साल के बेटी को मदद देने के लिए 5 हज़ार में ख़रीद लिए?
Opinion, Reviews, Sad/Bad

शर्म कीजिए, माँ कैन्सर से अस्पताल में हैं और आप उसकी 12 साल के बेटी को मदद देने के लिए 5 हज़ार में ख़रीद लिए?

गौर फरमाइए गा कि जिस समाज की गति आज आप पढ़ रहे हैं वह कल आपके साथ भी  हो सकता है.  मैं इस वक्त Work From Home कर रहा हूं, और अक्सर खबरों का संपादन में बोलकर भाषा में बदलने वाले सॉफ्टवेयर से करता हूं और इस वक्त मैं काफी धीरे-धीरे बोलकर इस खबर का संपादन कर रहा हूं ताकि या पूरी खबर मेरे घर की बच्ची, बहन या पत्नी ना सुन ले. इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं खबर कितनी समाज की नीचता को दिखा रही है कि व्यक्ति खुद इसका संपादन करने में असहज हो जा रहा है.   भारत के 1 बड़े शहर में एक महिला को कैंसर हो जाता है और उस महिला की नन्हीं सी बेटी जो महज 12 साल की है वह अपनी मां को बचाने के लिए हर तरीके से कोशिश करने रही है. इस कोशिश के दरमियां उसे एक महिला अपने यहां छोटे बच्चों के देखभाल के लिए काम पर रखने का वादा करती है.   इसी वादे के लिए उसने ₹5000 उसके मां के कैंसर के इलाज के देने के लिए कहा और ब...
मारुति Swift की क्रैश टेस्टिंग एक Hero Delux मोटरसाइकल ने सड़क पर ले लिया, एक टक्कर में पुरा बर्बाद हुआ गाड़ी
Opinion, Reviews, Travel

मारुति Swift की क्रैश टेस्टिंग एक Hero Delux मोटरसाइकल ने सड़क पर ले लिया, एक टक्कर में पुरा बर्बाद हुआ गाड़ी

भारत के सड़कों पर चलने वाले अधिकांश गाड़ियों में मारुति सुजुकी की स्विफ्ट गाड़ी सबसे कॉमन है और अधिकांश लोगों के पास उपलब्ध है. यह कार महज ₹550000 से शुरू हो जाता है. लेकिन यह सुरक्षा के लिहाज से हमेशा से चर्चा में रहते हैं. हाल ही में एक सड़क पर हुए दुर्घटना में इस गाड़ी की स्थिति देखकर पूरे इंटरनेट पर मारुति की गाड़ियों को लेकर थू थू हो रही है. सुरक्षा मानक NCAP के रिजल्ट की बात छोड़ दें और सड़क पर इस गाड़ी की सुरक्षा की स्थिति देखेंगे तो आप आसानी से यह गाड़ी कितनी सुरक्षित है इसका अंदाजा लगा पाएंगे. हाल ही में एक तस्वीर जिसमें यह साफ देखा जा सकता है की हीरो होंडा की डीलक्स गाड़ी और स्विफ्ट के पीछे टक्कर होने के बाद स्थिति या कैसी रही हैं. हीरो होंडा के मोटरसाइकिल के टक्कर के बाद मारुति स्विफ्ट के पीछे वाले बंपर के साथ-साथ उसका डिक्की भी पूरे तरीके से डैमेज हो गया और महज एक ...
दिल्ली के गली गली में चलेगा ऑपरेशन, पुराने गाड़ी उठा ले जाएगी टीम, करेगी स्क्रैप.
Being in Delhi, Opinion, Reviews, Travel

दिल्ली के गली गली में चलेगा ऑपरेशन, पुराने गाड़ी उठा ले जाएगी टीम, करेगी स्क्रैप.

अगर आपका गाड़ी पेट्रोल हैं और 15 साल पुराना हो चुका हैं, या आपका गाड़ी डीज़ल हैं और 10 साल पुराना हो चुका हैं, तो आपको सतर्क रहने की ज़रूरत हैं. अगर आपकी गाड़ी सड़क पर जा रही हैं तो उसे ज़ब्त करने के आदेश दिल्ली में जारी किए जा चुके हैं. अगर आपका गाड़ी सड़क पर नही हैं और अपने गली मोहल्ले में रखे हैं तो भी सावधान रहे, स्पेशल टीम का गठन किया गया हैं जो ऐसे गाड़ी खोजेंगे और सीधा SCRAP के लिए भेज देंगे. टीम गाड़ियों के रेजिस्ट्रेशन और उसके पते के अनुसार भी कार्यवाई करेंगे. दिल्ली में प्रदूषण के बढ़ते रूख को देखते ही इस फ़ैसले को लागू किया जा रहा हैं. हालाँकि लोगों को कहना हैं की जब गाड़ियाँ हमारी ठीक से मेंटेंड हैं और प्रदूषण भी नही दे रही हैं तो गाड़ियों को क्यूँ सरकार जबरन स्क्रैप कर रही हैं. यह सवाल अधिकांश दिल्ली रेज़िडेंट के मन में हैं और नाखुश हैं. आपको इस नए नीति पर कैसा लग रहा हैं...
दिल्ली के इन 18 flyover से गुजर रहे तो सावधान. गाड़ी का स्पीड रखे कम, हर इलाक़े की लिस्ट एक जगह
Being in Delhi, Opinion, Reviews, Travel

दिल्ली के इन 18 flyover से गुजर रहे तो सावधान. गाड़ी का स्पीड रखे कम, हर इलाक़े की लिस्ट एक जगह

दिल्ली के फ़्लाइओवर पर सावधान. दिल्ली के पुराने फ्लाईओवर मरम्मत की खुराक मांग रहे हैं। इनमें बड़े स्तर पर मरम्मत कराए जाने की जरूरत है। वर्तमान में 18 से अधिक फ्लाईओवर ऐसे हैं, जिनके एक्पेंशन ज्वाइंट व बेयरिंग खराब हो चुके हैं। इससे सामान्य तौर पर तो फ्लाईओवर में खराबी नहीं दिखती है मगर जब आप इनके ऊपर से गुजरते हैं तो ज्वाइंट पर झटका लगता है। क्योंकि ज्वाइंट पर सड़क का तल सपाट नहीं रहता है। इसी तरह फ्लाइओेवर के पिलर और गार्डर के बीच लगाए गए बेयरिंग खराब हो जाने से होने वाली हल्की जंपिंग बंद हो गई है।     लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) द्वारा करीब दो साल पहले कराए गए सर्वे में पता चला था कि इन फ्लाइओवरों में काम कराने की जरूरत है। इस सर्वे के आधार पर विभाग ने 2005 से पहले के बने सभी फ्लाइओवरों की केंद्रीय सड़क अनुसंधान संस्थान (सीआरआरआइ) से अध्ययन कराने का फैसला लिया ...
दिल्ली विश्वविध्यालय में नामांकन तो लगाना होगा सबको एक पेड़, हर 6 महीने में देना होगा रिपोर्ट भी
Being in Delhi, Delhi NCR, Education, Motivation, Opinion, Reviews

दिल्ली विश्वविध्यालय में नामांकन तो लगाना होगा सबको एक पेड़, हर 6 महीने में देना होगा रिपोर्ट भी

दिल्ली विश्वविद्यालय ने एक ऐतिहासिक फैसला लेते हुए एक नया आदेश अपने छात्रों के लिए जारी किया है. नया आदेश दिल्ली विश्वविद्यालय के दूरगामी सोच को दर्शाता है वही छात्र जीवन से ही प्रकृति को लेकर अपनी जिम्मेदारी को भी दिखाता है.   अब नामांकन के बाद छात्रों को करना होगा ऐसा. दिल्ली विश्वविद्यालय में 2021-2022 सेशन में नामांकन के लिए सारे विद्यार्थियों को एक कम से कम पौधा जरूर लगाना होगा और हर 6 महीने पर उस पौधे के विकास की रिपोर्ट भी बनाकर अपने कॉलेज को सौंपना होगा.   जरूरी है यह काम. यह क्रिया हर एक छात्रों के लिए अनिवार्य किया गया है और यह इंटरनल एसेसमेंट का एक भाग होगा. यह सारे अंडर ग्रेजुएट, मास्टर डिग्री और पीएचडी प्रोग्राम में हिस्सा लेने वाले छात्रों पर लागू होगा. जहां एक ओर प्रदूषण एक वैश्विक समस्या बन चुकी है वहीं पर दिल्ली विश्वविद्यालय का यह नया आदेश उम्मीद है...
NCR में 100% महँगा होरहा हैं सर्कल रेट, घर, दुकान, ज़मीन ख़रीदने के लिए दोगुना देना होगा पैसा, इलाक़ों की लिस्ट
Being in Delhi, Business, Delhi NCR, Opinion, Reviews, UP

NCR में 100% महँगा होरहा हैं सर्कल रेट, घर, दुकान, ज़मीन ख़रीदने के लिए दोगुना देना होगा पैसा, इलाक़ों की लिस्ट

दिल्ली से सटे नोएडा और ग्रेटर नोएडा में आने वाले समय में आशियाना बनाना महंगा हो जाएगा, क्योंकि यहां पर प्रॉपर्टी 100 फीसद तक महंगी हो जाएगी। हालांकि, 100 फीसद प्रॉपर्टी के दाम में इजाफा कुछ चुनिंदा इलाकों/सेक्टरों में ही होगा। दरअसल, कई सेक्टरों में सर्किल रेट की वर्तमान दर के हिसाब से 60 फीसद तक बढोतरी की तैयारी है। इसके बाद जाहिर है कि लोगों के लिए नोएडा और ग्रेटर नोएडा में आशियाना बनाना महंगा हो जाएगा। मेट्रो रूट के आसपास महंगी होगी प्रॉपर्टी मिली जानकारी के मुताबकि, नोएडा और ग्रेटर नोएडा के बीच चलने वाले एक्वा लाइन मेट्रो रूट और एक्सप्रेस-वे किनारे वाले सेक्टरों में रजिस्ट्री के लिए लोगों को अधिक स्टांप शुल्क चुकाना होगा। कुलमिलाकर मेट्रो स्टेशनों और मेट्रो लाइन के पास फ्लैट और जमीन दोनों ही महंगी होने जा रही है।   बताया जा रहा है कि नोएडा सेक्टर-15-ए, 14-ए और सेक्टर-4...