Friday, June 18

Reviews

अब झोला में बंद कर के ले जाए अपनी स्कूटर, चार्ज करे और कही भी जाए, गाड़ी की फ़ोटो, मात्र 25 किलो का है ये
Business, Developments, Motivation, Reviews, Technology

अब झोला में बंद कर के ले जाए अपनी स्कूटर, चार्ज करे और कही भी जाए, गाड़ी की फ़ोटो, मात्र 25 किलो का है ये

एक ऐसा स्कूटर जिसको चार्ज करे और कही भी जाए आइए जानते हैं कैसे विशेष स्वरुप के बने हुए स्कूटर के जो खुद में एक दिलचस्प  उपयोगी आधुनिक सवारी साबित हो रही है. एंटो ग्रुप में एक MUVO  नाम के स्कूटर को बनाया है जो कहीं पर भी आप आसानी से मोड़कर लेकर जा सकते हैं और अपने ऑफिस में अपने  बैग के समान रख दे सकते हैं. स्कूटर में दो पहिए हैं और दोनों पहियों में हब मोटर लगा हुआ है और या बिजली से सामान्य रूप से अन्य वस्तुओं के चार्ज होने जैसे ही चार्ज हो जाता है और उपयोग करने के लिए इसे बस खोलना होता है. एक बार चार्ज करने पर यह 32 किलोमीटर से लेकर 64 किलोमीटर तक की यात्रा देता है. कंपनी इसकी प्रोडक्शन 2015 से कर रही है और अब यह विदेशों में प्रचलित होते जा रही हैं उम्मीद है कि जल्द भारतीय मार्केट में भी इसकी एंट्री होगी. https://twitter.com/ammr/status/625415544917786624?s=20 इसके यह है...
बजाज चेतक के शौक़ीन हैं तो, ये स्कूटर एक बार में 90 KM और घर के साकेट में हो जाएगा चार्ज
Being in Delhi, Business, Developments, Motivation, Reviews

बजाज चेतक के शौक़ीन हैं तो, ये स्कूटर एक बार में 90 KM और घर के साकेट में हो जाएगा चार्ज

आम भारतीयों का झुकाव इलैक्ट्रिक वाहनों के प्रति तेजी से बढ़ता जा रहा है। इसकी प्रमुख वजह से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि। खासतौर पर दो-पहिया वाहन सेगमेंट में इलैक्ट्रिक व्हीकल्स तेजी से अपने पैर पसार रहे हैं। देश में इस समय जो दो-पहिया इलैक्ट्रिक वाहन शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं, उनमें बजाज चेतक इलैक्ट्रिक (Bajaj Chetak Electric) प्रमुख है। चुनिंदा शहरों में बिक्री होने के बावजूद चेतक की बिक्री के आंकड़े संतोषजनक हैं।   लेकिन क्या ज्यादा दिन नहीं चलेगा एकतरफा राज? इटैलियन कंपनी पिआजिओ (Piaggio) भारतीय बाजार में बजाज चेतक इलैक्ट्रिक (Bajaj Chetak Electric) को टक्कर देने के लिए तैयार है। खबरों के मुताबिक पिआजिओ अपने इलैक्ट्रिक स्कूटर वन (One) को जल्द ही भारत में पेश कर सकता है। हालांकि इससे पहले इस स्कूटर को महीने के अंत तक यूरोपीय देशों में लॉन्च किया जाएगा। परफ...
सरकारी काम में नही दिया ज़मीन तो सीधा ऐसे होगा आपका घर, 1 दर्जन तस्वीरें जो हमारे क़ानून से एकदम अलग हैं चीन
Motivation, Reviews

सरकारी काम में नही दिया ज़मीन तो सीधा ऐसे होगा आपका घर, 1 दर्जन तस्वीरें जो हमारे क़ानून से एकदम अलग हैं चीन

भारत के पड़ोसी मुल्क़, चीन को समझना बढ़ी ही टेढ़ी ख़ीर है. वहां की सरकार इतनी सख़्त है कि देश के बारे में कुछ भी ठीक तरीक़े से जान पाना कठिन है. इस वजह से लोगों के बीच चीन को लेकर जिज्ञासा बनी रहती है. चलिए आज थोड़ी जिज्ञासा को कम करते हुए हम आपको लेकर चलते हैं चीन के अंदर और दिखाते हैं वहां के लोगों, बाज़ारों के जीवन के कुछ अंश. 1. शार्क और क्रोकोडाइल बेचने के लिए शॉपिंग मॉल में रखे हुए. Source: thetravel 2. पुलिस में कुत्तों के साथ-साथ कलहंस(Geese) का भी उपयोग होता है. Source: brightside 3. वेंडिंग मशीनों में जीवित केकड़े बेचे जाते हैं Source: thetravel 4. यदि आप लंबे ट्रैफ़िक जाम में फंस जाएं तो आपको बस कॉल घुमाना है जिसके बाद 2 लोग आएंगे. एक आपकी गाड़ी का ध्यान रखेगा और जाम ख़त्म होने के बाद गाड़ी मनचाही जगह पहुंचा देगा और दूसरा आपको बाइक से ले चलेगा. Source: cgtn 5. Starbucks की जगह ...
लूच मॉन्टेनियर के मुताबिक कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद हो सकती है मृत्यु , जाने इस वायरल वीडियो का सच
COVID19, Developments, Opinion, Reviews

लूच मॉन्टेनियर के मुताबिक कोरोना वैक्सीन लगाने के बाद हो सकती है मृत्यु , जाने इस वायरल वीडियो का सच

कया कहती हैं लूच मॉन्टेनियर की रिपोर्ट ? फ्रांस के लाइफसाइट नाम की कनाडा की एक वेबसाइट ने नोबेल विजेता और फ्रेंच वायरलॉजिस्ट लूच मॉन्टेनियर के कहने पर एक खबर छापी है जिसके मुताबिक, नोबेल विजेता ने ने बड़े पैमाने पर हो रहे वैक्सीनेशन को लेकर लोगों को आगाह किया है और कहा है कि वैक्सीन लगवाना ऐतिहासिक भूल होगी क्योंकि वैक्सीन लगाने से नए वेरिएंट्स भी पैदा होंगे और इन वेरिएंट्स से और ज्यादा मौतें होंगी. रिपोर्ट में कहा गया है कि, "फ्रांस के वायरलॉजिस्ट ने अपने दावे को लेकर एंटीबॉडी-डिपेंडेंट एन्हैंसमेंट यानी एडीई के सिद्धांत का हवाला दिया है. साल 2008 में नोबेल जीतने वाले प्रोफेसर मोंटानियर का कहना है कि वैक्सीन की वजह से ही नए वेरिएंट पैदा होंगे." पर क्या कहते है वैज्ञानिक ? यह खबर सोशल मीडिया पर खूब शेयर किया जा रहा है और यह लोगों के अंदर दर फैला रहा है , रिपोर्ट के अनुसार वैक्सीन...
बिहार के 16 ज़िलों में अलर्ट जारी, DM ने बताया भारी बारिश और आँधी से करिए खुद की सुरक्षा,
Reviews

बिहार के 16 ज़िलों में अलर्ट जारी, DM ने बताया भारी बारिश और आँधी से करिए खुद की सुरक्षा,

बंगाल के पूर्वी मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर संभावित ओमान द्वारा नामित चक्रवात 'यास' तेजी से विकसित हो गया है. चक्रवाती तूफान के 25 मई तक एक गंभीर चक्रवाती तूफान में और फिर एक बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान में बदलने की संभावना है. बढ़ते हुए तीव्रता के साथ उत्तर पश्चिम में बढ़ता रहेगा और 26 मई को इसके उड़ीसा और पश्चिम बंगाल पहुंचने की संभावना है. इसके बाद झारखंड होते हुए बिहार में प्रवेश करने की संभावना है, राज्य में फिलहाल मौसम शुष्क बना रहेगा.   इन जिलों में वज्रपात के साथ बारिश की संभावना भागलपुर, बांका, पूर्णिया, कटिहार, खगड़िया, सहरसा, मधेपुरा, लखीसराय, बेगूसराय, समस्तीपुर, दरभंगा और मधुबनी में अगले कुछ घंटों में मेघगर्जन और वज्रपात के साथ बारिश की संभावना है. ऐसे में लोगों को एहतियात बरतने की जरूरत है.   https://twitter.com/imd_patna/status/1397002287743082497?ref_s...
दिल्ली के 100 साल पुराने रेस्टोरेंट्स जो आज भी परोस रहे हैं वही खाना, सबका पता और फ़ोटो, नेहरू तक खा चुके हैं यहाँ
Being in Delhi, Business, Reviews

दिल्ली के 100 साल पुराने रेस्टोरेंट्स जो आज भी परोस रहे हैं वही खाना, सबका पता और फ़ोटो, नेहरू तक खा चुके हैं यहाँ

दिल्ली दुनिया के फ़ेमस ऐतिहासिक और सांस्कृतिक रूप से महत्वपूर्ण शहरों में से एक है. इसके साथ ही यहां मिलने वाले लज़ीज पकवान भी वर्ल्ड फ़ेमस हैं. चलिए इसी बात आपको दिल्ली के कुछ ऐतिहासिक रेस्टोरेंट्स के बारे में बताए देते हैं, जो वर्षों से लोगों को स्वादिष्ट भोजन परोसते आ रहे हैं. इनमें से कुछ तो 50 साल से भी अधिक साल पुराने हैं, लेकिन आज भी इनके फ़ूड की क्वालिटी में कोई बदलाव नहीं आया. 1. मोती महल  Source: truelocalz दुनिया का पहला बटर चिकन यहीं बना था. ये रेस्टोरेंट 1947 से ही लोगों को लज़ीज बटर चिकन परोसता आ रहा है. नॉनवेज लवर्स को यहां एक बार ज़रूर जाना चाहिए. पता: 3704, नेताजी सुभाष मार्ग, पुराना दरियागंज   2. करीम होटल Source: wikipedia 1913 में ये होटल पुरानी दिल्ली में खुला था. तब से लेकर आज तक ये मीट लवर्स के लिए स्पेशल डिश बनाता आ रहा है. यहां की निहारी, बिरया...
दिल्ली में अगर आ जाए ये 33 चीजें तो बन जाएगा जापान, 33 तस्वीरों में देखे क्या अलग हैं वहाँ
Being in Delhi, Reviews

दिल्ली में अगर आ जाए ये 33 चीजें तो बन जाएगा जापान, 33 तस्वीरों में देखे क्या अलग हैं वहाँ

द्वीपों का देश जापान दुनिया एक एकमात्र ऐसा देश है, जिसने परमाणु बम का दंश झेला है. मगर फिर भी इस देश ने जितनी तरक्की की है, उतनी शायद ही किसी देश ने की होगी. यहां हमेशा भूकंप का ख़तरा बना रहता है, फिर भी यहां के लोग एक ख़ुशहाल ज़िंदगी जीते हैं. जापान का कल्चर, वहां के सूमो पहलवान, बुलेट ट्रेन, पगोड़ा मंदिर आदि बहुत फ़ेमस हैं. मगर इसके अलावा ये देश हमेशा कुछ न कुछ नया कर दुनिया को चकित करने में आगे रहा है. चलिए आपको फ़ोटोज़ के ज़रिये बताने की कोशिश करते हैं कि जापान रहने के लिहाज़ से कितना शानदार देश है. यहां हड़ताल पर जाने का भी एक अलग अंदाज़ है. हाल ही में जापान के बस ड्राइवर्स हड़ताल पर थे. मगर दूसरे देशों की तरह उन्होंने चक्का जाम नहीं किया, बल्कि बस चलाई. मगर यात्रियों से किराया नहीं लिया. यहां के हॉस्पिटल में बच्चे को जन्म देने के बाद महिलाओं को बहुत हेल्दी खाना दिया जाता है. ...
सिर्फ 15000 रुपए लगाकर आप भी करें तुलसी की खेती, 3 महीने बाद ही कमा लेंगे 3 लाख रुपये
Business, Motivation, Reviews

सिर्फ 15000 रुपए लगाकर आप भी करें तुलसी की खेती, 3 महीने बाद ही कमा लेंगे 3 लाख रुपये

Basil Farming – जब भी कभी अपना बिजनेस स्टार्ट करना हो तो दिमाग़ में बहुत से विचार घूमने लगते हैं कि कौन-सा बिजनेस करें जिसमें निवेश कम करना पड़े और मुनाफा ज़्यादा हो, किस प्रोडक्ट की मार्केट में ज़्यादा डिमांड है तो उसी से जुड़ा बिजनेस शुरू करें, कौन-सा उत्पाद लॉन्ग टर्म प्रॉफिट दे सकता है, इस तरह के कई खयाल आपके भी दिमाग़ में आते होंगे। आज हम आपकी यह परेशानी दूर करने के लिए आपको एक ऐसे बिजनेस का आईडिया देने वाले हैं, जिसके लिए आपको अपनी जॉब भी छोड़ने की ज़रूरत नहीं पड़ेगी और आप घर बैठे ही अच्छी खासी कमाई कर सकते हैं, वह भी काफ़ी कम टाइम में। तुलसी की खेती करके कमा सकते हैं लाखों रुपए (Basil Farming) हिंदू धर्म में तुलसी के पौधे का आध्यात्मिक महत्त्व तो प्राचीन समय से ही रहा है, आप सभी ने अपने घर में भी यह पौधा लगाया होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं कि यह पौधा आपको लखपति भी बना सकता है, ज...
भारत में एक और तूफ़ान का अलर्ट जारी, भारी बारिश, हवा के लिये राज्य रहे तैयार, मात्र 4 दिन बाक़ी
Being in Delhi, Reviews

भारत में एक और तूफ़ान का अलर्ट जारी, भारी बारिश, हवा के लिये राज्य रहे तैयार, मात्र 4 दिन बाक़ी

भारत के कई तटीय भाग अभी साइक्लोन ताऊ ते की वजह से आई तबाही से उभर भी नहीं पाए हैं कि मौसम विभाग ने एक और साइक्लोन यास (Yaas) को लेकर चेतावनी जारी की है। भारतीय मौसम विभाग ने शनिवार को मुताबिक यास बंगाल की खाड़ी में लो-प्रेशर बनने की वजह से 24 मई तक साइक्लोन में तब्दील हो सकता है। https://twitter.com/Indiametdept/status/1395995735653457924?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1395995735653457924%7Ctwgr%5E%7Ctwcon%5Es1_c10&ref_url=https%3A%2F%2Fm.dailyhunt.in%2Fnews%2Findia%2Fhindi%2Fnews24hindi-epaper-newstwhi%2Fweatheralertcyclontautekebadabyasbanegabharatkeliemusibatmausamvibhagnejarikiyaalart-newsid-n282094118   मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है कि चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) 26 मई की शाम को पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है। इस ...
150 साल पहले ऐसे थी अपनी अपनी दिल्ली, इन 20 तस्वीरों में कनाट प्लेस से लेकर चाँदनी चौक तक
Being in Delhi, Motivation, Reviews

150 साल पहले ऐसे थी अपनी अपनी दिल्ली, इन 20 तस्वीरों में कनाट प्लेस से लेकर चाँदनी चौक तक

100 Years Old Photo's of Delhi: दिल्ली (Delhi), भारत (India) की राजधानी ही नहीं, बल्कि देश के सबसे प्राचीन शहरों में से एक भी है. दिल्ली को इंद्रप्रस्थ के नाम से भी जाना जाता है. किसी ज़माने में दिल्ली इन्द्रप्रस्थ की राजधानी भी हुआ करती थी. उन्नीसवीं शताब्दी के आरंभ तक दिल्ली में इंद्रप्रस्थ नामक गांव भी हुआ करता था. दिल्ली पर 300 ईसा पूर्व से ही अलग-अलग शासकों ने राज किया. 13वीं शताब्दी में फिरोजशाह तुग़लक दिल्ली का राजा बना. इसके बाद दिल्ली सन 1206 के बाद 'दिल्ली सल्तनत' की राजधानी बनी. इस दौरान दिल्ली पर 'खिलजी वंश', 'तुगलक वंश', 'सैयद वंश' और 'लोदी वंश' समेत कुछ अन्य वंशों के शासकों ने राज किया. Source: wikipedia दिल्ली में आज मुग़ल काल में बने कई ऐतिहासिक स्मारक हैं जो इस शहर को प्राचीन बनाने का काम करती हैं. आज ये प्राचीन स्मारक दिल्ली की 'आन, बान और शान' बन चुके हैं. यही दि...