Monday, January 18

दिल्ली आनंद विहार बस अड्डा पर 60% कोरोना संक्रमित, बसो का होने लगा जाँच तो 231 अभी तक मिले COVID पॉज़िटिव

कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए कश्मीरी गेट, आनंद विहार और सराय काले खां आईएसबीटी पर यात्रियों की कोरोना जांच की जा रही है। पिछले 19 दिनों में 42 हजार से अधिक यात्रियों की जांच में कुल 231 यात्री संक्रमित (पॉजीटिव) थे। हैरानी की बात यह है कि कुल पॉजीटिव मामलों में 60 फीसदी अकेले आनंद विहार बस अड्डा के हैं। अधिकारियों के मुताबिक आनंद विहार से सर्वाधिक बसें आती जाती हैं और यात्रियों की संख्या अधिक होने की वजह से जांच भी कई गुना अधिक हुई है।

 

आनंद विहार बस अड्डा से उतर प्रदेश और उतराखंड के शहरों के लिए रोजाना करीब औसतन 700-800 बसों का आवागमन होता है। इसमें यात्रियों की संख्या भी अधिक होती है। कश्मीरी गेट से भी रोजाना 600-700 बसें औसतन रोजाना आवागमन करती हैं जबकि सराय काले खां पर यह महज 200 के करीब है।

 

 

43 हजार में से 231 यात्री कोरोना जांच में पॉजीटिव
पांच नवंबर से 23 नवंबर के बीच कश्मीरी गेट पर 10,593 यात्रियों की कोरोना जांच की गई। इनमें 60 पॉजीटिव मामले सामने आए। इस दौरान आनंद विहार बस अड्डा पर 26406 यात्रियों की जांच में 142 पॉजीटिव मामले मिले जबकि सराय काले खां में 5300 यात्रियों में से महज 29 पॉजीटिव मिले। 19 दिनों के दौरान तीनों बस अड्डों पर 42299 यात्रियों की जांच में 231 पॉजीटिव मिले। 

 

आठ नवंबर को सर्वाधिक 35 पॉजीटिव

कश्मीरी गेट पर चार, आनंद विहार पर 25 जबकि जबकि सराय काले खां पर छह पॉजीटिव केस मिले। इस दिन अधिक यात्रियों की जांच भी की गई। 19 दिनों में सराय काले खां पर आठ दिन एक भी यात्री पॉजी टिव नहीं निकला जबकि कश्मीरी गेट पर तीन और आनंद विहार पर दो दिन कोई भी पॉजीटिव नहीं आया। 11 नवंबर से पॉजीटिव मामलों में कमी आ रही है जबकि मौजूदा हालात को देखते हुए सभी बस अड्डों पर आरटीपीसीआर टेस्ट की संख्या में पहले से बढ़ोतरी कर दी गई है। इस बारे में डॉक्टरों का कहना है कि आनंद विहार पर जांच अधिक की जा रही है, इसलिए पॉजीटिव मामले अधिक हैं।

 

Leave a Reply