Monday, January 18

दिल्ली में 2 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन, लिस्ट हुआ तैयार, 623 कोल्ड स्टोरेज तैयार

कोरोना का टीका उपलब्ध होने पर दिल्ली में पहले चरण में दो लाख लाख से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा। पिछले माह 13 नवंबर तक 1250 अस्पतालों (सरकारी व निजी शामिल), प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, नर्सिंग होम व निजी क्लिनिक संचालकों ने एक लाख 43 हजार 914 कर्मचारियों का डाटा स्वास्थ्य विभाग को सौंप चुके हैं। इसमें 558 अस्पतालों व नर्सिंग होम का डाटा शामिल नहीं है। ऐसे में स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अधिकारी बताते हैं कि दिल्ली में स्वास्थ्यकर्मियों की संख्या दो लाख से अधिक हो सकती है।

 

कोरोना का टीका उपलब्ध होने पर सरकारी व निजी क्षेत्र के सभी स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाना है। जिसमें एलोपैथ व आयुष दोनों चिकित्सा पद्धतियों के कर्मचारी शामिल होंगे। उल्लेखनीय है कि केंद्र सरकार ने अक्टूबर में ही सभी राज्यों से स्वास्थ्य कíमयों का डाटा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था।

 

इसके बाद दिल्ली में भी परिवार कल्याण निदेशालय कर्मचारियों का डाटा तैयार करने में जुट गया था और सभी अस्पतालों से कर्मचारियों के बारे में जानकारी मांगी गई थी। पिछले दिनों गठित राज्य टास्क फोर्स (टीकाकरण) की बैठक में इसकी समीक्षा भी हुई। जिसमें यह बात सामने आई कि दिल्ली में सरकारी व निजी क्षेत्र को मिलाकर कुल छोटे बडे 1808 पंजीकृत अस्पताल, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, नर्सिंग होम हैं। इनमें से 1250 अस्पताल व नर्सिंग होम अपने कर्मचारियों का डाटा उपलब्ध करा चुके हैं। ज्यादातर सरकारी अस्पतालों व चिकित्सा केंद्रों ने अपनी जानकारी उपलब्ध करा दी है। लेकिन उस समय तक निजी क्षेत्र के 50 फीसद से ज्यादा संस्थान जानकारी उपलब्ध नहीं करा पाए थे।

 

सभी एजेंसियों के स्वास्थ्य कर्मचारी होंगे शामिल

टीकाकरण शुरू होने पर केंद्र सरकार, दिल्ली सरकार, नगर निगम सहित सभी एजेंसियों के स्वास्थ्य कर्मचारी शामिल होंगे। जिसमें डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल कर्मचारी, सफाई, सुरक्षा कर्मचारी, मेडिकल व नìसग के छात्र, शोधकर्ता व फिल्ड स्वास्थ्य वर्कर (एएनएम, आशा इत्यादि)दूसरे चरण में बुजुर्गो को लगेगा टीका दूसरे चरण में पुरानी बीमारियों से पीडि़त 60 साल से अधिक उम्र के बुजुर्गो को टीका लगेगा। बाद में इसमें 50 साल से अधिक उम्र वाले उन लोगों को भी शामिल करने पर विचार किया जा सकता है जिन्हें पहले से कोई बीमारी है। बताया जा रहा है कि दिल्ली में 60 साल से अधिक उम्र वाले लोगों की आबादी करीब 14 लाख 27 हजार व 50-59 साल की उम्र के लोगों की आबादी 14 लाख 68 हजार है।

 

  • टीके को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए इंसुलेटेट वैन, जिसमें दो से आठ डिग्री तापमान बरकरार रखा जाता है।
  • टीका भंडारण की क्षमता- 37,164 लीटर
  • राजीव गांधी सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में अतिरिक्त भंडारण की व्यवस्था करने की तैयारी जहां लगेगा टीका
  • 620 चिकित्सा केंद्र
  • 11कार्यरत कोल्ड चेन प्वाइंट्स- 609
  • कुल 621उपलब्ध कोल्ड

Leave a Reply