Friday, April 23

बालिकाओं का सुधरेगा भविष्य, दिल्ली सरकार ने लाडली योजना के तहत 100 करोड़ रुपये को दी मंजूरी

दिल्ली। मुख्यमंत्री केजरीवाल की अध्यक्षता में दिल्ली कैबिनेट ने अपने अहम फैसले में लाडली योजना के तहत 100 करोड़ रुपये को मंजूरी दी है। इस धनराशि से जहाँ लाडली योजना को आर्थिक सहायता दी गई है। वहीं इसके अलाव एससी/एसटी/ओबीसी विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति, विशेष जरुरतमंद बच्चों को सहायता उपकरण और पुस्तकालय ढांचों को भी बेहतर किया जाएगा। इस योजना से स्कूल जाने वाली बालिकाओं को भी लाभ मिलेगा।

महिला एंव बाल विकास विभाग द्वारा वर्ष 2008 में लागू की गई लाडली योजना का उद्देश्य लड़कियों के स्कूली शिक्षा को बढ़ावा देना और उनकी ड्राॅप आउट दर में कमी लाना था। वहीं इस योजना से उन्हें छात्रवृत्ति देकर आगे पढ़ने के लिए आर्थिक रुप से भी सुरक्षा  प्रदान करना था। यही वजह है कि लाडली योजना को सुचारु रखने के लिए दिल्ली सरकार ने 100 करोड़ रूपये के आर्थिक पैकेज को मंजूरी दी है।

क्या है खास?

केजरीवाल सरकार ने विभिन्न योजनाओं के तहत एससी/एसटी/ओबीसी वर्गों से आने वाले विद्यार्थियों को मिलने वाली छात्रवृत्ति के तहत 75.98 करोड़ रुपये को मंजूरी दी है। जिसमें एससी/एसटी/ओबीसी वर्ग के छात्रों को कक्षा 1 से 12 तक मिलने वाली प्री-मैट्रिक, पोस्ट-मैट्रिक और मेरिट स्काॅलरशिप भी शामिल है।

टैलेंट प्रमोशन स्कीम से  विशेष आवश्यकता वाले बच्चों को मदद 

इसके अलावा टैलेंट प्रमोशन स्कीम के तहत विशेष आवश्यकता वाले छात्रों के कौशल विकास के लिए 2 करोड़ रुपये जारी करने पर सरकार ने मंजूरी दी है। इस स्कीम के तहत बच्चों की प्रतिभा को विकसित करने के लिए उपकरण व अन्य सहायता सेवाएं मुहैया कराए जाएंगे।

 

पुस्तकालयों को बनाया जाएगा बेहतर

दिल्ली सरकार ने दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पुस्तकालयों को और बेहतर बनाने और किताबों को सुरक्षित रखने के लिए स्टील की लगभग 4200 अलमारियों की खरीद को भी मंजूरी दी है। इसके लिए दिल्ली सरकार ने 7.20 करोड़ की राशि जारी की है।

 

Leave a Reply