Thursday, April 22

दिल्ली मेट्रो ने आई-एटीएस विकसित कर Make in India को दिया बढ़ावा, जानिए क्या है आई-एटीएस

एक नजर पूरी खबर

  • दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने मंगलवार को कहा कि उसने सरकार की प्रमुख मेक इन इंडिया पहल के तहत मेट्रो ट्रेनों के लिए स्वदेश निर्मित सिग्नल प्रौद्योगिकी के विकास की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है।
  • जानिए क्या है आई-एटीएस

दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने मंगलवार को कहा कि उसने सरकार की प्रमुख मेक इन इंडिया पहल के तहत मेट्रो ट्रेनों के लिए स्वदेश निर्मित सिग्नल प्रौद्योगिकी के विकास की दिशा में एक बड़ा कदम उठाया है। डीएमआरसी ने कहा कि इसी के हिस्से के तौर पर आई-एटीएस (सिग्नल प्रणाली की उप प्रणाली) की मंगलवार को शुरुआत की।

डीएमआरसी ने एक बयान में कहा, डीएमआरसी ने 15 सितंबर को अभियंता दिवस के मौके पर स्वदेश निर्मित सीबीटीसी (संचार आधारित रेल नियंत्रण) आधारित मेट्रो रेल सिग्नल प्रौद्योगिकी के विकास की दिशा में एक बडा कदम उठाया है।

जानिए क्या है आई-एटीएस

एटीएस एक कंप्यूटर आधारित प्रणाली है जोकि ट्रेन संचालन का प्रबंधन करती है। अधिकारियों ने बताया कि आई-एटीएस स्वदेश में विकसित प्रौद्योगिकी है जिसकी सहायता से अब भारतीय मेट्रो ट्रेन की निर्भरता विदेशी आपूर्तिकर्ताओं पर से काफी हद तक कम हो जाएगी।

Leave a Reply