Tuesday, March 2

दिल्ली मेट्रो अगले महीने बदल सकती हैं अपना सिस्टम, खोलेगी ज़्यादा गेट, बस दूसरे सप्ताह के रिज़ल्ट का हैं इंतज़ार

मेट्रो में प्रतिदिन करीब साढ़े चार लाख यात्री सफर करने लगे हैं, लेकिन ज्यादातर मेट्रो स्टेशनों पर सिर्फ एक गेट खुल रहा है। ऐसे में सुबह और शाम को व्यस्त समय में कई स्टेशनों के बाहर यात्रियों की लंबी लाइन लग रही है।

 

इसके मद्देनजर यात्री दिल्ली मेट्रो रेल निगम (डीएमआरसी) को ट्वीट कर मेट्रो स्टेशनों पर अतिरिक्त गेट खोलने की मांग कर रहे हैं। इस वजह डीएमआरसी मौजूदा व्यवस्था की समीक्षा करेगा। यदि कोरोना का संक्रमण कम हुआ तो अगले माह में दूसरे सप्ताह के बाद स्टेशनों पर कुछ अतिरिक्त गेट खुल सकते हैं।

 

दिल्ली मेट्रो के नौ कॉरिडोर पर 253 स्टेशन हैं। इन सभी स्टेशनों पर चार से पांच गेट हैं। डीएमआरसी के अनुसार करीब 100 स्टेशन ऐसे हैं, जहां दो गेट खुले रहते हैं। इसमें एक गेट से प्रवेश जबकि दूसरे से बाहर निकलने की सुविधा मिल रही है। इसके अलावा 136 मेट्रो स्टेशन ऐसे हैं, जहां यात्रियों के प्रवेश और निकास के लिए सिर्फ एक गेट खुला रहता है।

 

अन्य 17 स्टेशनों पर यात्रियों को दो गेट से प्रवेश करने की सुविधा दी जा रही है। इनमें से ज्यादातर इंटरचेंज स्टेशन हैं। डीएमआरसी का कहना है कि स्टेशनों पर भीड़ नियंत्रित करने व शारीरिक दूरी के नियम का पालन करने के लिए एक या दो गेट खोले जा रहे हैं। अधिक गेट खुलने पर स्टेशनों पर भीड़ बढ़ सकती है। इससे कोरोना का संक्रमण फैलने का खतरा रहेगा।

 

इसलिए फिलहाल यही व्यवस्था लागू रहेगी, लेकिन अगले कुछ दिनों में इसकी समीक्षा की जाएगी। यदि संक्रमण दर में गिरावट आई तो मेट्रो स्टेशनों पर अतिरिक्त गेट खोलने पर विचार जाएगा।

Leave a Reply