Tuesday, August 3

वाह! दिल्ली पुलिस ने पहले दुस्कर्म पीड़ित लड़की के boyfriend को गिरफ़्तार किया और लड़की को ख़ून देकर जान बचाया

वाह! ये हैं हमारी दिल की पुलिस:

 

दिल की पुलिस, दिल्ली पुलिस’ की पंचलाइन को एक बार फिर दक्षिणी दिल्ली की फतेहपुर बेरी थाना पुलिस ने चरितार्थ किया। पुलिसकर्मियों ने न सिर्फ शादी का झांसा देकर गंदा काम करने वाले आरोपित को गि”रफ्तार किया, बल्कि प्रसव के समय दुष्कर्म पीड़िता को खून की जरूरत पड़ने पर रक्तदान कर उसकी जा’न भी बचाई।

 

युवती गर्भवती और कमजोर थी.

पुलिस उपायुक्त अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि एक सितंबर को फतेहपुरबेरी थानाक्षेत्र में 20 वर्षीय युवती को शादी का झांसा देकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया था। युवती आठ माह की गर्भवती और बेहद कमजोर भी थी। मामले में पुलिस ने आरोपित युवक को झारखंड स्थित उसके घर से दो दिन के अंदर गिरफ्तार कर लिया था। आरोपित युवक फिलहाल न्यायिक हिरासत में है।

 

लड़की को अब देखने वाला कोई नही था.

उधर, युवती को गंभीर रक्तस्राव होने पर एम्स ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां उसकी देखभाल के लिए कोई नहीं था। एसएचओ इंस्पेक्टर कुलदीप सिंह ने महिला उपनिरीक्षक नितेश को उसकी देखभाल के लिए लगाया। इस दौरान तीन सिपाहियों योगेश, राहुल, और संदीप ने युवती के लिए रक्तदान भी किया।

 

लेकिन सबके बाद हुआ हैपी एंडिंग.

19 सितंबर को युवती ने एक बेटी को जन्म दिया। मां बेटी दोनों स्वस्थ हैं और बृहस्पतिवार को उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। पुलिस उपायुक्त ने बताया कि पुलिस टीम को पुरस्कृत किया जाएगा। पीड़िता ने दिया है स्वस्थ बच्ची को जन्म, एम्स ट्रामा सेंटर में भर्ती कराकर महिला उपनिरीक्षक को देखरेख के लिए भेजा गया था

Leave a Reply