Saturday, April 17

दिल्ली के बिगड़ रहे हालात, अभी अभी फिर पूरी दिल्ली में नाकेबंदी शुरू, तार और डंपर से घेरना चालू हुआ

कई दिनों से ठंड में धरने पर बैठे किसान, नहीं निकला कोई हल

 

पिछले कई दिनों से नए कृषि कानून को रद्द करने की मांग कर रहे किसान, किसी भी हालत में पीछे हटने को तैयार नहीं है। इस बाबत की गई सारी बैठक बेनतीजा रही है। इतना ही नहीं किसानों ने विरोध प्रदर्शन को तेज करने के लिए अपना सारा दम लगा दिया है। 

 

भारी संख्या में दिल्ली की तरफ कूच कर रहे हैं किसान

 

बताते चले कि विरोध प्रदर्शन तेज करने के लिए अलग-अलग जिलों से भारी संख्या में किसान दिल्ली की ओर कूच कर रहे हैं। खुफिया इनपुट से यह बात सामने निकल कर आई है कि आज किसान दिल्ली में प्रवेश कर सकते हैं। इस बाबत प्रतेक सीमा पर चेकिंग तेज कर दी गई है। 

 

कटीले तारों वाली बैरिकेडिंग और वाटर कैनन आदि का सहारा लेकर किसानों को रोकने की कोशिश

 

बदरपुर बॉर्डर पर भारी संख्या में पुलिस बलों की तैनाती की गई है। पुलिस ने वहां जर्सी बैरियर, कंटेनर, कटीले तारों वाली बैरिकेडिंग और वाटर कैनन लगा रखा है। दक्षिण-पूर्व के एक वरिष्ठ अधिकारी के हवाले से बताया कि बृहस्पतिवार रात सूचना मिली थी कि राजस्थान के कामा से बड़ी संख्या में किसान ट्रैक्टर-ट्रॉली में सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर की नेतृत्व में दिल्ली की ओर बढ़ रहे हैं। 

 

डंपर लगाकर रोकने की तैयारी

 

गुरुग्राम से दिल्ली आने वाले कैरिज्वे पर मिट्टी से भरे डंपर भी खड़े हुए थे, ताकि किसान अगर ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ दिल्ली में प्रवेश करने की कोशिश करें तो उन्हें रोका जा सके। आया नगर और एनएच-8 के रजोकरी बॉर्डर की तरफ से भी किसानों के आने की सूचना थी, जिसके बाद वहां पर पुलिस फोर्स की संख्या बढ़ा दी गई।

Leave a Reply