Monday, January 18

दिल्ली में AC के गर्म हवा को लेकर ज़बरदस्त मारपिट, छत से उल्टा लटका कर फेंका

छोटी सी असुविधा कब विवाद बनके विकट रूप धारण कर जाए, इसका अंदाज़ा नहीं लगाया जा सकता। मामला न्यू संजय अमर कॉलोनी का है जहाँ पे एक पड़ोसी ने दूसरे पड़ोसी की हत्या कर दी। आरोपी धर्मेंद्र ने कुछ गुंडे बुलवाकर पड़ोस में रह रहे 60 वर्षीय बुर्ज़ुर्ग धर्मपाल के साथ मारपीट की और फिर उन्हें छत से उल्टा लटकाकर नीचे फेंक दिया। अस्पताल में ले जाने के बाद डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

 

पुलिस के मुताबिक धर्मपाल और उनका पूरा परिवार फर्श बाजार की न्यू संजय अमर कॉलोनी में रहता था। परिवार में पत्नी हीरावती, चार बेटे कन्हैया लाल, बाबू लाल, मंजीत कुमार और देव कुमार व दो शादीशुदा बेटियां हैं। जिस गली में वे रहते थे वो महज़ 6 फ़ीट की थी और उनका दो मंज़िला घर 25 गज़ का था। उनके घर के ठीक सामने धर्मेंद्र अपनी पत्नी, दो बेटों और दो बेटियों के साथ रहता था। गली तंग थी तो धर्मेंद्र के ए. सी. की गर्म हवा सीधे धर्मपाल के घर जाती थी जिसको लेकर के दोनों परिवारों में नोक-झोक होती थी। धर्मपाल के परिवार का आरोप है कि छोटी बातों पे धर्मेंद्र की पत्नी उनके साथ गाली गलोच करती थी।

 

धर्मपाल की बेटी प्रीति ने बताया है कि एक सप्ताह पहले उनके परिवार ने अपने घर ए सी लगाया था जिसकी गर्म हवा धर्मेंद्र के घर जाने लगी जिसके चलते विवाद और बढ़ गया। पड़ोसियों में तनाव इतना हो गया कि रोज़ लड़ाई होने लगी। बीते मंगलवार के दिन धर्मपाल के पोते ने गली में पानी डाल दिया तो धर्मेंद्र आग बबूला हो गया। आपा खो देने की वजह से उसने गुंडे बुलवाए और पड़ोसी के घर घुस गया।

 

घर में घुस कर के गुंडों ने सबसे पहले महिलाओं के साथ मारपीट की और फिर धर्मपाल और उनके बेटे बाबूलाल को पीटा। धर्मपाल अपनी जान बचाने के लिए छत पे गए लेकिन गुंडों ने उनको धर-दबोचा और छत से उल्टा लटकाकर नीचे फेंक दिया। वारदात की सूचना जब पुलिस को मिली तो उन्होंने धर्मपाल को अस्पताल पहुँचाया मगर तब तक देर हो चुकी थी। इस घटना में बाबूलाल और उनके भाई देव कुमार भी ज़ख्मी हो गए। पुलिस ने धर्मेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है और बाकी आरोपियों की तलाश कर रही है।

Leave a Reply