Friday, April 16

कोरोना मरीज़ को जिन्दा होने के बावजूद मृत्यु प्रमाण पत्र दे दिया, गलती का एहसास कर अस्पताल प्रशासन ने मांगी माफी

बुधवार को उसे डिस्चार्ज किया गया

दिल्ली में एक अजीब सा मामला सामने आया है जिसमें एक कोरोना मरीज़ को जिन्दा होने के बावजूद मृत्यु प्रमाण पत्र दे दिया गया। हालांकि बड़ी शांति से उसने अपनी बात राखी और उसकी शिकायत के बाद उससे माफी मांगी गई। बुधवार को उसे डिस्चार्ज भी कर दिया गया।

कोरोना पॉजिटिव होने पर लोकनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया था

बताते चलें कि बीते 24 नवंबर को श्रीनिवास कुमार को कोरोना पॉजिटिव होने पर लोकनायक अस्पताल में भर्ती कराया गया था। हालांकि वो तीन दिसंबर को कोरोना नेगेटिव हो गया पर उससे पहले ही 30 नवंबर को उसे मृत घोषित कर, एक दिसंबर को निगम की ओर से उसका मृत्यु प्रमाण पत्र जारी कर दिया गया।

मौखिक तौर पर माफ़ी भी मांगी गई

इसके बाद उसने यह मामला पुलिस में दर्ज कराया। इस बाबत मंगलवार को अस्पताल प्रशासन के द्वारा मौखिक तौर पर माफ़ी भी मांगी गई। चिकित्सा अधीक्षक डॉ. सुरेश कुमार बताया कि एक ही नाम के एक ही दिन दो मरीज़ भर्ती होने के कारण यह गड़बड़ी हो गई।

Leave a Reply