Friday, April 16

भ्रूण लिंग परिक्षण करते थे, गुरुग्राम टीम ने महिला को ग्राहक बना भेजा, खुल गयी पोल

किया गैरकानूनी काम

भ्रूण लिंग परिक्षण गैरकानूनी होने के साथ साथ शर्मनाक भी है। लेकिन फिर भी कुछ लोग पैसों के लालच में अपना ईमान बेचने से भी बाज़ नहीं आते हैं। कुछ ऐसा ही देखने को मिला लोनी क्षेत्र के रामेश्वर पार्क कॉलोनी में।

एक महिला को ग्राहक बनाकर भेजा

बता दें कि पीसीपीएनडीटी प्रभारी डॉ. मुंशीलाल के हवाले से बताया गया कि गुरुग्राम के सिविल सर्जन विरेंद्र यादव को रामेश्वर पार्क कॉलोनी स्थित अल्ट्रासाउंड सेंटर में लिंग परीक्षण किए जाने की सूचना मिली जिसके बाद वो अपनी टीम के साथ वहाँ आए। आरोपियों को रंगे हाँथ पकड़ने के लिए एक महिला को ग्राहक बनाकर भेजा गया। रामेश्वर पार्क कॉलोनी में पहुंचने पर एक व्यक्ति महिला को जांच कराने ले गया। लेकिन जैसे ही वो जाँच करा वापस ले आया गुरुग्राम की टीम ने स्थानीय पुलिस की सहायता से उसे धड़ दबोचा।

तीनों के खिलाफ मामला दर्ज़

उस व्यक्ति ने बताया कि उसके साथ अल्ट्रासाउंड सेंटर संचालक और एक महिला भी काम करते हैं। हालांकि संचालक और महिला पीछे की गेट से फरार हो गए। लोनी ठाणे में सेंटर संचालक डॉ. पंकज, लोनी निवासी उजमा खान और जावली निवासी अजय शर्मा के खिलाफ भ्रूण लिंग जांच के आरोप में गिरफ्तार किया है। ऐसे मामले और भी देखने को मिलें हैं।

 

 

Leave a Reply