Thursday, April 22

कल मेट्रो सफ़र करने जा रहे हैं तो आज ही पढ़ ले नया फ़ैसला, सारे स्टेशन की पूरी जानकारी

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली (Delhi) की विभिन्न सीमाओं पर जमा हजारों किसानों को उत्तरी दिल्ली के निरंकारी मैदान में शांतिपूर्ण प्रदर्शन (Farmers Protest) की इजाजत मिलने के बाद शहर के आसपास शुक्रवार को सुबह से बना तनाव का माहौल कुछ हद तक खत्म हो गया. इस बीच दिल्ली मेट्रो (Delhi Metro) से सफर करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर आई है. दरसअल, कल शनिवार को मेट्रो की सामान्य सेवाएं जारी रहेगीं.

 

दिल्ली में मेट्रो सेवाओं को शुक्रवार शाम को फिर से शुरू किया गया. दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (DMRC) ने ट्वीट कर कहा कि शुक्रवार शाम 5 बजकर 35 से सभी लाइनों पर सेवाएं बहाल हो गई हैं. कल सभी लाइनों पर नियमित सेवाएं जारी रहेंगीं. बता दें, डीएमआरसी ने शुक्रवार को केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों द्वारा ‘दिल्ली चलो’ मार्च के मद्देनजर ग्रीन लाइन पर छह मेट्रो स्टेशनों पर निकास और प्रवेश द्वार बंद करने की घोषणा की थी.

 

डीएमआरसी ने इन मेट्रो स्टेशनों को किया था बंद

डीएमआरसी ने कहा था, ‘ग्रीन लाइन पर ब्रिगेडियर होशियार सिंह, बहादुरगढ़ सिटी, पंडित श्री राम शर्मा, टीकरी बॉर्डर, टीकरी कलां और घेवरा स्टेशनों के प्रवेश और निकास द्वार अब बंद कर दिए गए हैं.’ दिल्ली मेट्रो अधिकारियों ने पहले घोषणा की थी कि पड़ोसी शहरों की सेवाएं शुक्रवार को निलंबित रहेंगी.

 

पुलिस को करनी पड़ी कड़ी मशक्कत

आपको बता दें, शुक्रवार को केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ ‘दिल्ली चलो’ मार्च ( Delhi Chalo Protest) के तहत विभिन्न स्थानों पर जमा किसानों को रोकने के लिए घंटों तक पुलिस को मशक्कत करनी पड़ी. पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े और पानी की बौछारों का भी प्रयोग किया लेकिन किसान नहीं माने. कई जगहों पर किसानों ने पथराव किया और बैरिकेड भी तोड़ डाले.

 

निरंकारी मैदान में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की मिली अनुमति

दिल्ली पुलिस के जनसंपर्क अधिकारी ईश सिंघल ने बताया, ‘किसान नेताओं के साथ बातचीत के बाद प्रदर्शनकारी किसानों को दिल्ली में बुराड़ी के निरंकारी मैदान में शांतिपूर्ण प्रदर्शन करने की अनुमति दी गई है. हम किसानों से शांति बनाए रखने की अपील करते हैं।’ टिकरी बॉर्डर से किसानों को निरंकारी मैदान तक छोड़ने के लिए दोपहर तीन बजे पुलिस भी उनके साथ गई, लेकिन सिंघू बॉर्डर पर जमा किसान शाम तक शहर में प्रवेश नहीं कर पाए. पंजाब से दिल्ली आने के लिए यह मुख्य मार्ग है.

Leave a Reply