Friday, April 16

NCR में नया कोरोना मिलने के अलर्ट जारी किए गएँ, कमिश्नर ने जारी किया निर्देश, Helpline लाइन भी जारी

मेरठ के 12 लोग ब्रिटेन से वापस आए (12 People came in Meerut From Britain) हैं। शासन स्तर से यह जानकारी मिलने के बाद स्वास्थ्य महकमे ने सभी को ट्रैस कर लिया है। सभी की एंटीजन जांच निगेटिव आई है। आरटी पीसीआर जांच के लिए सैंपल भेजे गए हैं।

 

देशभर में कोविड-19 के स्ट्रेन-2 के अलर्ट के बाद मेरठ मंडल में भी दिशा निर्देश जारी किए गए हैं। कमिश्नर अनीता सी मेश्राम ने प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को यूके और अन्य यूरोपियन यूनियन के देशों से आने वाले यात्रियों को निगरानी में रखने के निर्देश दिए हैं।

 

दो समूहों में बांटे यात्री

इन देशों से आने वाले यात्रियों को दो समूहों में बांटा गया है। इसमें पहला ग्रुप 23 नवंबर से आठ दिसंबर तक का है जबकि दूसरा गु्रप नौ दिसंबर के बाद भारत वापस आने वाले यात्रियों का है। इनको 28 दिनों तक सर्विलांस में रखा जाएगा और कंट्रोल सेंटर द्वारा टेलीफोनिक कम्यूनिकेशन से सर्विलांस होगा। सीएमओ डॉ। अखिलेश मोहन ने बताया कि अगर बाहर से आने किसी भी व्यक्ति में लक्षण मिलते हैं या सूचना देनी है तो 0121-2668470, 0121-2660820 या 9454419075 पर सूचना दे सकते हैं।

 

तैयारियों की समीक्षा

जिले के नोडल अधिकारी आबकारी आयुक्त पी.गुरू प्रसाद ने बुधवार को बचत भवन में कोरोना वैक्सीन टीकाकरण की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने डॉक्टर्स को व्यवस्थित ढंग से कोरोना वैक्सीन लगाने के निर्देश दिए।

 

60 सेशन होंगे

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डा। प्रवीण कुमार ने बताया कि प्रथम चरण में 40 स्थानों पर 60 सेशन होंगे। एक सेशन में करीब 100 लोगो का टीकाकरण होगा। उन्होंने बताया कि टीकाकरण सोमवार, शुक्रवार व उससे अगले सोमवार को होगा। उन्होंने बताया कि कंट्रोल रूम का नंबर 0121-2662244 है। उन्होने बताया कि संभवत प्रथम चरण एक जनवरी 2021 से प्रारंभ होगा। इसके अलावा नोडल अधिकारी ने बुधवार को मेडिकल कॉलेज का निरीक्षण किया।

 

सोमवार और शुक्रवार को होगा वैक्सीनेशन

प्रदेश स्तर पर कोविड-19 वैक्सीनेशन की तैयारियां युद्धस्तर पर चल रही हैं। शासन ने वैक्सीनेशन के लिए संभावित दिन भी तय किए हैं। अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद के निर्देशों के तहत हर हफ्ते सोमवार और शुक्रवार को निर्धारित किया गया है। प्रदेश में चल रहे दूसरे नियमित टीकाकरण के साथ ही कोविड-19 वैक्सीनेशन होगा। इसके लिए बुधवार और शनिवार को छोड़कर दूसरे दो दिनों में वैक्सीनेशन किया जाएगा। शासन ने जिला प्रशासन को कार्ययोजना लागू करने के निर्देश दिए हैं। सीएमओ डॉ। अखिलेश मोहन ने बताया कि शासन की गाइडलाइंस के अनुसार ही कार्ययोजना को लागू किया जा रहा है।

 

होगी हाई सिक्योरिटी

कोविड-19 की वैक्सीन के लिए हाई सिक्योरिटी मोड ऑन रहेगा। इसके तहत कोल्ड चेन प्वाइंट पर सुरक्षा कर्मियों की नियुक्ति 24 घंटे रहेगी। वहीं वैक्सीनेशन के हर सत्र में दो सुरक्षा कर्मियों को नियुक्ति दी जाएगी। इसमें पुलिस कांस्टेबल और गार्ड शामिल हो सकते हैं। वहीं स्टोरेज वाले स्थल से टीकाकरण सत्र के स्थल तक परिवहन के दौरान भी वैक्सीन की सुरक्षा का ख्याल रखा जाएगा। इसके लिए हर कोल्ड चेन प्वाइंट्स की सुरक्षा व्यवस्था के लिए सीसीटीवी लगवाएं जाएंगे। वहीं कम से कम 15 दिन का डाटा बेस रखा जाएगा। जबकि टीकाकरण कक्ष में सीसीटीवी और वीडियो रिकॉर्डिग की व्यवस्था नहीं की जाएगी।

 

अगले हफ्ते आ सकती है वैक्सीन

जिले में वैक्सीनेशन के लिए कर्मियों और अधिकारियों के लिए 27 दिसंबर तक ट्रेनिंग सत्र पूरे करने के निर्देश जारी किए गए हैं। वहीं सूत्रों के अनुसार अगले हफ्ते वैक्सीनेशन का काम शुरु हो सकता है। हालांकि जिले में पहली वैक्सीन किसे लगेगी ये अभी भी तय नहीं किया गया है।

Leave a Reply