Friday, April 23

दिल्ली में इस साल रामलीला नही होगा, रद्द किया गया सारा आयोजन, “सरकार का फ़ैसला बहुत देर से आया अब सम्भव नही”

केवल परम्परा बचाने के लिए 10 दिन तक लगातार करेंगे रामायण का पाठ..

कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ने और दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की ओर से देरी से मिले गाइडलाइंस की वजह से इस साल दिल्ली में होने वाली सभी प्रमुख रामलीलाओं का मंचन रद्द कर दी गया है। राजधानी दिल्ली में पहली बार ऐसा होगा जब एक साथ सभी रामलीला समितियों ने मंचन नहीं करने के निर्देश दिए हैं। कश्मीरी गेट की श्री नवयुवक रामलीला समिति के संयोजक अवतार सिंह का कहना है कि 40 वर्ष से चली आ रही इस परंपरा को बचाने के लिए पहली बार वे रामलीला के मंचन की जगह 10 दिन तक चलने वाला रामायण का पाठ करेंगे। जिसके लिए तैयारियां शुरू हो गई हैं शारीरिक दूरी बनी रहे इसके लिए उचित व्यवस्था भी की गई है।

 

हंस क्लब रामलीला कमेटी उत्तम नगर के अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह ने बताया कि कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस बार रामलीला का आयोजन रद्द के दिया गया। तो वहीं द्वारका श्री रामलीला सोसाइटी के मुख्य संरक्षक अशोक गहलोत ने बताया कि सरकार की ओर से रामलीला आयोजन को लेकर जो दिशा-निर्देश जारी किए गए थे उसके मद्देनजर आयोजन समिति के पदाधिकारियों की बैठक भी बुलाई गई। नरेंद्र चावला ने बताया कि सरकार ने बहुत दिनों बाद दिशानिर्देश जारी किए अतः अब सम्भव नही हैं.

डिजिटल रामलीला कि जोर – शोर से तैयारी शुरु..

कमाल सुशांत जो नमो मंत्र फाउंडेशन के अध्यक्ष हैं उन्होंने बताया कि इतिहास में पहली बार डिजिटल रामलीला का आयोजन किया जा रहा है और यह उन लोगों के लिए किया जा रहा है, जो लोग अपने मोहल्ले में , गांव में और शहर में रामलीला नहीं देख पाएंगे क्योंकि ज्यादातर, इस बार रामलीला का आयोजन देश में रद्द हो गया है । अब लोग डिजिटल रामलीला के मंचन का आनंद घर बैठकर उठाएंगे।

 

सोमवार को प्रेस वार्ता हुई थी जिसके दौरान उन्होंने कहा कि-” इस मुहिम में देश के 50 से ज्यादा सांसद भी जुड़े हुए हैं । रामलीला नमो मंत्र फाउंडेशन के यूट्यूब चैनल पर 17 से 25 अक्टूबर तक दिखाई जाएगी। इसे 9 हिस्सों में दिखाया जाएगा ।

 

नैनीताल के सांसद अजय भट्ट , दक्षिण दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी , साध्वी प्रज्ञा भारती कथा वाचक अजय भाई और गोस्वामी सुशील ने भी इसमें हिस्सा लिया है। वहीं कामधेनु रामलीला पटपड़गंज राज बिहार के चेयरमैन कुलदीप ने कहा कि सरकार अभी मैदान में रामलीला मंचन की अनुमति दे दी है। अब सभी दिन कम दर्शकों की संख्या ने सभी दिशनिर्देशों के साथ रामलीला का मंचन किया जाएगा। फेसबुक लाइव के माध्यम से दर्शक घर बैठकर रामलीला का आनन्द उठा सकते हैं।

Leave a Reply