Saturday, May 8

दिल्ली में तेल की बारिश, सड़कों पर हुआ फिसलन, गाड़ी चलाना हुआ मुश्किल. Emergency कॉल लगातार मिलना शुरू

दीपावली के बाद रविवार की शाम को दिल्ली में हुई बारिश के बाद सड़कों पर फिसलन बढ़ गई। लिहाजा बड़ी संख्या में लोगों ने तेल की बारिश की शिकायत दिल्ली अग्निशमन विभाग के पास की। बारिश के बाद करीब एक घंटे के अंदर विभाग के पास तेल की बारिश संबंधी 57 कॉल आई। दिल्ली अग्निशमन विभाग के निदेशक अतुल गर्ग ने बताया कि ज्यातर कॉल मोटरसाइकिल चालकों ने की थी। माना जा रहा है कि बारिश के कारण वातारण में मौजूद धूल और अन्य रसायन पानी की बूंदों के साथ सड़कों पर आ गए होंगे। इसकी वजह से सड़कों पर फिसलन हो गई होगी।

दमकल विभाग के पास आग लगने की आई 205 कॉल

बता दें कि दिल्‍ली में सरकार की मनाही के बावजूद जमकर आतिशबाजी हुई। कई इलाके पटाखों की आवाज से गूंज उठे। आतिशबाजी में कई जगह आग लगने की घटना भी हुई। कुल आग लगने की घटना की बात करें तो 205 जगह आग लगी। हालांकि पिछली दीपावली के मुकाबले इस बार कम आग लगने की घटना हुई। कई लोग सरकार की मनाही के बाद सामाजिक जिम्‍मेदारी निभाते दिखे और लोगों को भी मना कर आतिशबाजी करने से रोका। वहीं कुछ जगह बच्‍चे आतिशबाजी जरूर करते दिखे। इस दौरान मुंडका में कूलर गोदाम में आग के अलावा कोई बड़ी घटना नहीं घटी। कूलर गोदाम में आग लगने से एक व्‍यक्‍ति की मौत हो गई जबकि एक शख्‍स झुलस गया। इसके अलावा ज्यादातर आग छोटी-मोटी ही रही।

दीपावली पर हुई आतिशबाजी के बाद स्मॉग की चादर से ढका नोएडा

कहते है इंसान जो प्रकृति को देता है उसी का अक्स बनाकर प्रकृति वापस देती है। दिल्ली-एनसीआर में रहने वाले लोग पिछले कई वर्षों से ठंड का मौसम शुरू होते ही प्रदूषण की मार झेल रहे हैं।

नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल द्वारा पटाखा बिक्री पर रोक लगाए जाने के बावजूद दीपावली पर लोगों ने खूब आत‍िशबाजी की, जिस कारण वायु प्रदूषण बढ़ गया। हालांकि रविवार शाम की हुई बारिश के बाद प्रदूषण के स्तर में कुछ कमी आई।

Leave a Reply