Friday, April 23

कोरोना की मार शादियों पर भी पड़ी, मात्र 50 मेहमानों को अनुमति, कार्ड निर्माताओं को हो रहा भारी नुकसान, मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

शादी से जुड़े व्यवसाय भी बुरी तरह प्रभावित

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए फिर से तमाम तरह की पाबंदियां लगनी शुरू हो चुकी हैं। शादियों और शादी से जुड़े व्यवसाय भी इससे नहीं बच पाए हैं। जाहिर सी बात है शादियों में जुटी भीड़ कोरोना को भयानक तरीके से फैलाने में बहुत बड़ी कड़ी साबित होगी।

खामियाजा कार्ड निर्माताओं भुगत रहें हैं

इस बात को ध्यान में रखते हुए शादी में शामिल होने वाले मेहमानों की संख्या 200 से घटाकर मात्र 50 कर दी गयी है। जिसका खामियाजा कार्ड निर्माताओं को भुगतना पड़ रहा है। उनकी शिकायत है कि दिसंबर में होने वाली शादियों के कार्ड छपवाने के लिए आर्डर दिए गए थे। लेकिन अब मेहमानों की संख्या मात्र 50 होने के कारण लोग कार्ड लेने आ ही नहीं रहें हैं।

पत्र लिख इस समस्या के निदान की मांग की गयी है

50 मेहमान का मतलब है 25 वधु की तरफ से और 25 वॉर की तरफ से। इसी कारण लोग शादी का कार्ड लेने से बच रहें हैं या लेना भी चाहते हैं तो मात्र 50 कार्ड। ऐसे में कार्ड निर्माताओं को काफी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है। इस बाबत केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को एसोसिएशन ने पत्र लिखकर समस्या के निवारण हेतु अनुरोध किया है।

Leave a Reply