Sunday, March 7

हाउस टैक्स देने को हो जाए तैयार, शुरू हुआ सैटेलाइट सर्वे, हर किसी को देना होगा नया टैक्स, किसी को छूट नही

कई भवन हाउस टैक्स के दायरे से बाहर

नगर निगम के खर्चों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और आमदनी में कोई बढ़ नहीं हो रही है। ये हालत इसलिए है क्यूँकि बहुत सारे वार्डों से हाउस टैक्स नहीं वसूला जा रहा है और वो हाउस टैक्स के दायरे से बाहर है।

 

ग्रामीण वार्डों को भी भरना होगा हाउस टैक्स

नगर निगम अब इस मामले पर गंभीर नज़र आ रहा है और उन भवनों को टैक्स के दायरे में लाने के लिए गाजियाबाद में सैटेलाइट सर्वे करा रहा है। साथ ही यह भी कहा गया है कि सीमा क्षेत्र के ग्रामीण वार्डों को इस टैक्स से किसी तरह की छूट नहीं होगी। उन्हें भी यह टैक्स भरना ही होगा।

 

बढ़ जाएगी नगर निगम की आमदनी

बता दें कि नगर निगम करीब 3.60 लाख भवनों से हाउस टैक्स वसूल रहा है। नगर निगम 2021 में पूरा होने वाले सैटेलाइट सर्वे के द्वारा करीब दो लाख टैक्सदाता को जोड़कर टैक्स से होने वाली आमदनी करीब डेढ़ गुना से ज्यादा बढ़ा लेगा।

 

इन वार्डों से नहीं मिल रहा है हाउस टैक्स

साहिबाबाद गांव, पसौंडा, करहेड़ा, गढ़ी सिकरोड़, महरौली, सदरपुर, दुहाई, काजीपुरा, समेत अन्य कई वार्डों से हाउस टैक्स नहीं मिलने के कारण टैक्स से होने वाली आमदनी में कोई बढ़ोतरी नहीं हो रही है।

 

Leave a Reply