Sunday, January 17

धीरे धीरे लोग अपनाने लगें शादियों में हो रहे बदलावों को, कोरोना के कारण आ गयी ऐसी स्तिथि, पर कारोबारियों पर भारी पड़ रहे हैं ये बदलाव

सावधानी न बरतने का खामियाजा भुगतना पड़ रहा

त्योहारों पर कोरोना से सावधानी न बरतने का नतीजा अब शादी सीजन में भुगतना पड़ रहा है। नवंबर के शुरुवात से ही कोरोना मामलों में काफी तेजी देखी गयी। सरकार के हर संभव प्रयास के बावजूद जगह जगह पाबन्दी लगाने की नौबत आ चुकी है। सरकार ने शादी समारोह में शामिल होने वाले मेहमानों की संख्या 200 से घटाकर मात्र 50 कर दिया है।

कारोबारियों को करना पड़ रहा मुश्किलों का सामना

लोगों से सामाजिक दूरी, मास्क लगाने जैसे आदि नियमों का पालन करने के लिए अनुरोध किया जा रहा है। कम मेहमानों की अनुमति होने का खामियाज़ा कारोबारियों को भुगतना पड़ रहा है। बैंक्वेट हॉल में शादी लोग कैंसिल कर मंदिर, रेस्तरां या दूसरे विकल्पों को महत्व दे रहे हैं।

ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन ही सामान खरीद रहे हैं लोग

बता दें कि लोगों को यह भी समझ नहीं पा रहे कि किसे बुलाए और किसे नहीं। इस तरह की शादी फिकी लग रही है। कोरोना से बचने के लिए लोग ज्यादा से ज्यादा ऑनलाइन ही सामान खरीद रहें हैं। कोरोना का खौफ इस तरह शादियों को फीका कर रहा है कि कुछ लोग विदेश से आकर आर्य समाज मंदिर में शादी करने वाले हैं।

Leave a Reply